COVID-19: इटावा में तीन घंटे तक सड़क पर घूमते रहे कोरोना पॉजिटिव 70 मरीज, ये है वजह

राजकुमार ने कहा कि आगरा प्रशासन की ओर से संवादहीनता के कारण ऐसा हुआ है. (सांकेतिक फोटो)

राजकुमार ने कहा कि आगरा प्रशासन की ओर से संवादहीनता के कारण ऐसा हुआ है. (सांकेतिक फोटो)

पुलिस ने बताया कि अस्पताल (Hospital) का मुख्य द्वार बंद होने की वजह से सभी मरीज सुबह सात बजे तक मुख्य द्वार के सामने और आस-पास सड़कों पर टहलते रहे.

  • Share this:
इटावा. उत्तर प्रदेश के इटावा (Etawah) जिले के सैफई आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय अस्पताल (Saifai University Hospital of Medical Sciences) के बाहर 70 कोरोना वायरस (COVID-19) संक्रमित मरीज कई घटों तक घूमते रहे. इस दौरान अस्पताल प्रशासन ने इन मरीजों की सुध तक नहीं ली. दरअसल, आगरा से बस और एंबुलेंस के द्वारा 70 कोरोना पॉजिटिव मरीजों को सैफई आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय अस्पताल भेजा गया था. यहां पहुंचने के बाद मरीजों ने देखा कि अस्पताल का मुख्य द्वार खुला नहीं है. ऐसे में गेट खुला न होने की वजह से 70 मरीज करीब तीन घंटे तक बाहर सड़क पर ही टहलते रहे.

पुलिस ने बताया कि स्थानीय लोगों ने थाना प्रभारी और क्षेत्राधिकारी सहित पुलिस अधिकारियों को इसकी सूचना दी. इसके बाद पुलिस क्षेत्राधिकारी चंद्र पाल सिंह ने विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. राजकुमार को इस बारे में बताया. पुलिस के अनुसार चंद्र पाल सिंह ने मरीजों को पानी और बिस्कुट मुहैया कराया. ये सभी मरीज बस और एंबुलेंस से तड़के चार बजे आगरा से सैफई आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय अस्पताल पहुंचे थे.

मरीज सुबह सात बजे तक मुख्य द्वार के सामने टहलते रहे

पुलिस ने बताया कि अस्पताल का मुख्य द्वार बंद होने की वजह से सभी मरीज सुबह सात बजे तक मुख्य द्वार के सामने और आस-पास सड़कों पर टहलते रहे. राजकुमार ने कहा कि आगरा प्रशासन की ओर से संवादहीनता के कारण ऐसा हुआ है. कुलपति ने इसके बाद अस्पताल का मुख्य द्वार खुलवाया और मरीजों को अस्पताल के अंदर बने कोरोना वायरस विंग मे भर्ती किया गया.
17 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले

बता दें कि शनिवार को ही लखनऊ में 17 नए कोरोना पॉजिटिव मरीजों का पता चला है. इसके बाद यहां कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 200 के पार चली गई है. नए कोरोना पॉजिटिव केसों में सात मरीज पाण्डेयगंज, एक सदर और नौ लोग अरबी फारसी यूनिवर्सिटी में क्वॉरेंटाइन किए गए हैं. जानकारी के अनुसार अरबी फारसी यूनिवर्सिटी में क्वॉरेंटाइन कोरोना पॉजिटिव लोगों में ज्यादातर लोग दिल्ली के हैं. लखनऊ में कोरोना मरीजों का आंकड़ा अब 185 से बढ़कर 202 हो गया है.

ये भी पढ़ें- 



19 मई तक ज्वाइन करने वाले हड़ताली शिक्षकों का निलंबन वापस लेगी बिहार सरकार

बिहार के इस मुखिया से PM ने की बात, लॉकडाउन-कोरोना की रोकथाम को लेकर पूछे सवाल


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज