Home /News /uttar-pradesh /

UP Chunav 2022: चचा शिवपाल ने भतीजे को लेकर बताई अपनी इच्‍छा, कहा- अब कोई राजनीतिक महत्‍वकांक्षा नहीं

UP Chunav 2022: चचा शिवपाल ने भतीजे को लेकर बताई अपनी इच्‍छा, कहा- अब कोई राजनीतिक महत्‍वकांक्षा नहीं

शिवपाल सिंह यादव नामांकन के दौरान.

शिवपाल सिंह यादव नामांकन के दौरान.

UP Assembly Election: शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश की जनता से अपील है कि वह अखिलेश यादव की अगुवाई में बने गठबंधन के पक्ष में मतदान करें. उन्‍होंने बताया कि अखिलेश यादव की अगुवाई में बना गठबंधन उत्तर प्रदेश में प्रचंड बहुमत हासिल करके सरकार बनाएगा.

अधिक पढ़ें ...

इटावा. उत्‍तर प्रदेश में राजनीतिक माहौल दिन प्रतिदिन गरमाता जा रहा है. सपा इस समय पूरी तरह से एक्टिव है और लगातार चुनावी रणनीति के तहत काम कर रही है. इस बार के चुनाव में सपा प्रमुख अखिलेश यादव अपने चाचा शिवपाल सिंह यादव को अपने पक्ष में कामयाब रहे हैं. अब चाचा शिवपाल भी पूरे मन से अपने भतीजे को विजयी बनाने में जुट गए हैं. इस बीच शिवपाल जसवंतनगर विधानसभा सीट से नामांकन करने पहुंचे. इस मौके पर उन्‍होंने कहा कि अब उनकी कोई राजनीतिक महत्‍वकांक्षा नहीं है. अब उनका लक्ष्‍य भतीजे अखिलेश यादव को मुख्‍यमंत्री बनाना है.

शिवपाल का कहना था कि विधानसभा चुनाव में जीत के बाद मुख्यमंत्री का अधिकार होगा तो वह अपने मंत्रीमंडल मे जगह देंगे अन्यथा अब उनकी कोई राजनीतिक महत्वाकांक्षा नहीं है. पीएसपीएल से जुड़े तमाम नेताओं की नाराजगी से जुड़े सवाल पर उन्होंने कहा कि उनके दल का कोई भी नेता पहले तो नाराज नहीं है. अगर कोई नाराज होगा तो उसे वह हर हाल में मना लेंगे. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी गठबंधन की सरकार हर हाल में बनेगी और उनके भतीजे सपा प्रमुख अखिलेश यादव एक बार फिर से मुख्यमंत्री बनेंगे. यादव ने कहा कि उन्होंने अपना विधानसभा चुनाव के लिए उम्मीदवार के तौर पर नामांकन कर दिया है. उत्तर प्रदेश की जनता से अपील है कि वह अखिलेश यादव की अगुवाई में बने हुए गठबंधन के पक्ष में मतदान करें. अखिलेश यादव की अगुवाई में बना हुआ गठबंधन उत्तर प्रदेश में प्रचंड बहुमत हासिल करके सरकार बनाएगा.

UP Chunav: राजा भैया के करीबी को चुनाव में दे चुकी हैं पटखनी, जानें कौन हैं कुंडा से BJP प्रत्‍याशी सिंधुजा मिश्रा 

सपा गठबंधन 403 सीटों पर लड़ रहा चुनाव
शिवपाल ने कहा कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में सपा गठबंधन 403 सीटों पर चुनाव लड़ रहा है. जब गठबंधन से चुनाव हो रहा है तो सभी सीटें प्रगतिशील समाजवादी पार्टी की ही मानी जाएंगी. किसान नेता राकेश टिकैत की ओर से चुनाव आयोग पर लगाए गए आरोपों को लेकर उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग की चुनाव निष्पक्ष कराने की जिम्मेदारी है. बेईमानी किसी भी सूरत में नहीं होनी चाहिए और इस बात का ध्यान रखा जाना चाहिए. भारतीय जनता पार्टी झूठ बोलने वालों की पार्टी है लेकिन समाजवादी पार्टी ने हमेशा ही संविधान की रक्षा करने का काम किया है. भारतीय जनता पार्टी के नेता और कार्यकर्ता जितना झूठ बोलते उतना झूठ भारतीय राजनीति में कोई भी नहीं बोलता होगा.

झूठ बोलते हैं साधू के भेष में बैठने वाले लोग
मुख्यमंत्री योगी पर निशाना साधते हुए यादव ने कहा कि हमें तो यह उम्मीद कतई नहीं थी कि साधु के भेष में बैठे लोग भी झूठ बोल सकते हैं. संतो को इस तरह से झूठ बोलने का अधिकार नहीं होता. वोटों के ध्रुवीकरण से जुड़े सवाल पर शिवपाल ने कहा कि जब जब चुनाव आते हैं, तब भारतीय जनता पार्टी को हिंदू-मुस्लिम मंदिर-मस्जिद दिखाई देता है. 5 साल सरकार में रहने के दरम्यिान भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने केवल झूठे वादे ही किए हैं कोई भी वायदा पूरा नही किया है. भरतीय जनता पार्टी के नेताओं के सब वादे झूठ और खोखले निकले हैं इसलिए देश की जनता भारतीय जनता पार्टी को सबक सिखाएगी और भाजपा को सत्ता से हटा करके गठबंधन की सरकार बनाएगी.

मिलेंगी 300 सीटें
उन्होंने कहा कि आगामी चुनाव में समाजवादी पार्टी गठबंधन को प्रचंड बहुमत मिलने वाला है. अनुमान है कि कम से कम तीन सौ के आसपास सीटें समाजवादी पार्टी गठबंधन को हर हाल में मिलेगी. शिवपाल यादव अपने पैतृक गांव सैफई से पूजा पाठ करके शुक्रवार को मुख्यालय पर पहुंचे हैं. शिवपाल के लिए जसवंत नगर से 4 सेट नामांकन पत्र खरीदे गए थे. शिवपाल यादव अपने बेटे आदित्य यादव, जिला पंचायत अध्यक्ष अपने भतीजे अभिषेक यादव, नाती तेज प्रताप सिंह और सदर विधानसभा 200 के प्रत्याशी सर्वेश शाक्य सपा जिलाध्यक्ष गोपाल यादव के साथ कलेक्ट्रेट में नामांकन के लिए पहुंचे.

Tags: Shivpal singh yadav, UP chunav, Uttar Pradesh Assembly Election 2022

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर