अपना शहर चुनें

States

इटावा में बसपा सुप्रीमो मायावती ने फिर बदल दिया पार्टी का जिलाध्यक्ष, अब जिम्मेवारी शीलू दोहरे पर

इस साल बसपा सुप्रीमो मायावती ने इटावा में सातवां जिलाध्यक्ष नियुक्त किया. (फाइल फोटो)
इस साल बसपा सुप्रीमो मायावती ने इटावा में सातवां जिलाध्यक्ष नियुक्त किया. (फाइल फोटो)

बसपा प्रमुख मायावती ने पार्टी का जिलाध्यक्ष फिर से बदल दिया है. वर्ष 2020 में अब तक बसपा ने छह जिलाध्यक्ष बदले हैं. पार्टी ने इस बार युवा चेहरे के रूप में शीलू दोहरे को जिलाध्यक्ष बनाया है. शीलू दोहरे इस साल के सातवें जिलाध्यक्ष हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 5, 2020, 1:34 AM IST
  • Share this:
इटावा. समाजवादी गढ़ उत्तर प्रदेश के इटावा में सपा प्रमुख अखिलेश यादव के दांव के महज 14 दिन बाद बसपा प्रमुख मायावती ने पार्टी का जिलाध्यक्ष फिर से बदल दिया है. पार्टी ने इस बार युवा चेहरे के रूप में शीलू दोहरे को जिलाध्यक्ष बनाया है. इस समय वे सेक्टर प्रभारी कानपुर मंडल के पद पर थे.

इस साल बदले जा चुके हैं छह जिलाध्यक्ष
वर्ष 2020 में अब तक बहुजन समाज पार्टी ने छह जिलाध्यक्ष बदले हैं. शीलू दोहरे इस साल के सातवें जिलाध्यक्ष हैं. खास बात यह रही कि इस दौरान वीपी सिंह दो बार जिलाध्यक्ष बनाए गए. साल के शुरू में वीपी सिंह ही बसपा जिलाध्यक्ष थे. उनके बाद फ्रेंड्स कॉलोनी के जितेंद्र दोहरे जिलाध्यक्ष बनाए गए. जल्द ही पार्टी ने उनके स्थान पर गोविंद गौतम को अगला जिलाध्यक्ष बनाया. लेकिन कुछ समय बाद उन्हें हटाकर फिर से वीपी सिंह को जिलाध्यक्ष बना दिया गया. जल्द ही पार्टी ने जगत नारायण दोहरे को जिलाध्यक्ष बनाया. उससे लगा कि अब पार्टी में जल्दी-जल्दी जिलाध्यक्ष बदलने का दौर थम जाएगा. लेकिन ऐसा नहीं हुआ.


हाल में भी बसपा से गए कुछ लोग सपा में


इधर, जगत नारायण दोहरे के कार्यकाल के दौरान ही दिवाली के दिन बसपा के तीन पूर्व जिलाध्यक्षों के एक साथ अन्य नेता ने समाजवादी पार्टी का दामन थाम लिया था. इसकी गाज जिलाध्यक्ष पर गिरते देर न लगी. पार्टी ने उन्हें हटाकर फिर से कई बार जिलाध्यक्ष रह चुके वीपी सिंह को जिलाध्यक्ष तो बनाया लेकिन उनकी कार्यकारिणी के गठन से पहले ही पार्टी ने उन्हें फिर से चलता कर दिया. अब बसपा ने जिस युवा को जिलाध्यक्ष बनाया है, वह कितने दिन इस पद पर रह पाएंगे इस बारे में कुछ कहा नहीं जा सकता.

हफ्ते भर में बना लेंगे नई कार्यकारिणी : शीलू दोहरे

आगे पढ़ें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज