Home /News /uttar-pradesh /

बहाने से बुलाया फिर किया अगवा, मांगी 15 लाख की फिरौती, अब पुलिस ने दबोचा तो...

बहाने से बुलाया फिर किया अगवा, मांगी 15 लाख की फिरौती, अब पुलिस ने दबोचा तो...

पशु व्यापरी का 15 लाख की फिरौती के लिए अपहरण, पुलिस ने पकड़ा

पशु व्यापरी का 15 लाख की फिरौती के लिए अपहरण, पुलिस ने पकड़ा

UP News: इटावा मे 15 लाख वसूलने के इरादे से पशु व्यापारी (cattle dealer) का किया गया अपहरण (kidnapping), पुलिस ने काबिंग कर कराया मुक्त, क्राइम ब्रांच ने भी दिया साथ भैंस खरीदने के बहाने बुलाया था पशु व्यापारी को और फिर लिया अपने कब्जे में, अब भी कुछ अपराधी हैं पुलिस की पकड़ से दूर, बीहड़ का फायदा उठाकर भागने में हुए कामयाब

अधिक पढ़ें ...

इटावा. उत्तर प्रदेश के इटावा जिले के इकदिल क्षेत्र से एक पशु व्यापारी का अपहरण कर 15 लाख रुपये की फिरौती मांगे जाने की घटना हाल ही सामने आई है. दरअसल इकदिल क्षेत्र से खबर आई कि एक पशु व्यापारी हरेंद्र यादव का अपहरण हो गया है और बदले में 15 लाख की फिरौती मांगी जा रही है, इस खबर से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया. अपहरण की सूचना मिलने के बाद पुलिस और क्राइम ब्रांच ने संयुक्त रूप से अभियान चलाकर अगवा किए गए पशु व्यापारी को मुक्त करवाया.
पुलिस ने अगवा करने वाले एक अपहरणकर्ता को ​गिरफ्तार कर लिया है लेकिन अब भी कुछ संदिग्ध पुलिस की पकड़ से दूर हैं. इटावा के एसएसपी जयप्रकाश सिंह ने बताया कि अगवा शख्स ने बेटे ने अपने पिता हरेंद्र यादव का अपहरण करने और फिरौती की मांग को लेकर इलैक्ट्रोनिक एवं मैनुअल एवं परिस्थितिजन्य संकलित साक्ष्यों के आधार पर बीहड़ में काम्बिग कर घेराबन्दी करते हुए दबिश दी गयी. लेकिन 4 व्यक्ति अधंरे एवं बीहड़ होने का फायदा उठाकर भागने में सफल रहे, एवं पुलिस टीम ने 2 व्यक्तियों को मौके से पकड़ा. जिनमें से एक व्यक्ति अपहृत हरेन्द्र यादव व दूसरा अपहरणकर्ता गोविन्द राजपूत पुत्र टुंडे सिह बताया गया.

गिरफ्तार अपहरणकर्त्ता की तलाशी लेने पर उसके कब्जे से 1 की-पैड मोबाइल बरामद किया गया. पुलिस पूछताछ में गिरफ्तार आरोपी ने बताया गया कि उसके व उसके अन्य भागे हुये साथियों ने हरेन्द्र यादव को भैंस खरीदने के बहाने से बुलाया था एवं फिरौती हेतु हरेन्द्र का अपहरण किया गया था. पुलिस ने इस मामले में गोविन्द राजपूत पुत्र टूण्डे मूल निवासी गोलेकापुरा (दही का पुरवा) थाना नया गांव जिला भिण्ड मध्य प्रदेश वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जय प्रकाश सिंह ने घटना के सफल अनावरण करने वाली टीम के सदस्यों के उत्साहवर्धन हेतु 25000 रुपए के नगद पुरुस्कार से पुरस्कृत किया गया है. हरेंद्र के अपहरण की सूचना पर मध्य प्रदेश व इटावा पुलिस ने बीहड़ क्षेत्र में कांबिंग की और मंगलवार की सुबह पशु व्यापारी को सकुशल ढूंढ निकाला. इकदिल इलाके के पक्का बाग स्थित विकास कालोनी भाग-तीन निवासी हरेंद्र यादव पशुओं की खरीद-फरोख्त का काम करते हैं.

बहाने से बुलाया था हरेन्द्र को
हरेंद्र के बेटे अनुराग यादव ने बताया कि सुबह 11 बजे क्षेत्र के मध्यप्रदेश के भिंड जिले के सनावई गांव के पास पहुंचे, तो गोविंद ने कहा कि सीधा रास्ता काफी लंबा है. इसके बाद शार्ट रास्ता की बात कहकर जंगल के रास्ते से दोनों को ले गया. गांव से करीब पांच मीटर दूर पहुंचते ही शस्त्र बदमाशों ने उन लोगों की बाइक रोक ली. तीनों को बाइक से उतार कर जंगल की तरफ ले गए. बकौल सोनू बदमाशों ने उससे कहा कि हरेंद्र को सकुशल ले जाना चाहते हो, तो पांच लाख रुपये लेकर आओ. उससे पहले फिरौती को लेकर 15 लाख की मांग की शुरूआत की गई. उसके बाद अपहरणकर्ताओं ने उसे फिरौती की रकम व अंगूठी लेकर आने के लिए छोड़ दिया, जबकि उस दौरान गोविंद छिप गया.

हरेंद्र के अपहरण की खबर घर में पहुंची तो कोहराम मच गया. अपहरण की सूचना पर पुलिस ने आरोपी गोविंद को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की। साथ ही घटनास्थल को भी देखा. हरेंद्र यादव ने बताया कि भैंस खरीदने के नाम पर उसका अपहरण करने वालो ने उसको बीहड़ मे करीब 40 किलोमीटर के आसपास पैदल चलाया. एक समय अपहरण करने वाले पंचनदा के आसपास आ पहुंचे जहं पर किसी एक नजदीकी गांव तक भी पहुंच गये। जहां पर अपहरणकर्ताओं से कई स्तर की वार्ता की गई. जिसकी जानकारी मुक्त हो चुके है पशु व्यापारी ने पुलिस अधिकारियों को दे दी है जिसको लेकर अब पुलिस की गहन पड़ताल शुरू कर दी गई है.

Tags: Kidnapping Case, UP police, Uttar pradesh news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर