अपना शहर चुनें

States

पूर्व CM अखिलेश यादव के गांव सैफई पीजीआई में 1 माह में 95 बच्चों की मौत

सूबे में बच्चों की मौत का सिलसिला खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है. गोरखपुर, फर्रूखाबाद जिले के बाद अब यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के गांव स्थित सैफ़ई पीजीआई में एक महीने में हुई 95 बच्चों की मौत की ख़बर है.

  • Share this:
सूबे में बच्चों की मौत का सिलसिला खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है. गोरखपुर, फर्रूखाबाद जिले के बाद अब यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के गांव स्थित सैफ़ई पीजीआई में एक महीने में 95 बच्चों की मौत की ख़बर है.

बताया जा रहा है कि बच्चों की मौत इलाज के दौरान हुई है. खुद हॉस्पिटल प्रशासन ने पीजीआई में 95 बच्चों के मौत की पुष्टि की है.डीएम सीएमओ ने मामले की जांच की बात कही है. हालांकि अभी मीडिया के सामने आने से बच रहे हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक हॉस्पिटल प्रशासन ने बच्चों की मौत के लिए हॉस्पिटल को बेकसूर ठहरा दिया है. प्रशासन ने कहा है कि हॉस्पिटल में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है न इसमें कोई दोषी है.



हॉस्पिटल प्रशासन ने बताया कि पिछले एक महीने में हॉस्पिटल में कुल 1464 बच्चे एडमिड हुए थे, जिनमें से 95 बच्चो की मौत हो चुकी है. हॉस्पिटल द्वारा जारी किया यह आंकड़ा अगस्त महीने का है.
गौरतलब है सैफई पीजीआई हॉस्पिटल को पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव यश भारती पुरस्कार देकर सम्मानित कर चुके हैं. बड़ा सवाल यह उठता है कि इतनी सुविधाओं से युक्त सैफई पीजीआई में एक महीने में 95 बच्चो की मौत कैसे हो गई.

वहीं, पीजीआई सैफई के कुलपति टी प्रभाकर ने हॉस्पिटल में आक्सीजन की कमी नहीं होने और इलाज में लापरवाही होने से इनकार किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज