कोवीशील्ड लगते ही दूर हुई 10 साल पुरानी बीमारी, इटावा के व्यक्ति ने इस तरह किया वैक्सीन से फायदे का दावा

कोरोना की वैक्सीन ने दस साल पुरानी दर्द की बीमारी में किया चमत्कार, इटावा के इस शख्स की बदल गई जिंदगी

उत्तर प्रदेश के इटावा जिले के एक शख्स का दावा है कि कोविड वैक्सीन लगवाने के बाद उसकी कमर मे हो रहा करीब दस साल पुराना दर्द पूरी तरह से गायब हो गया है. कोविड वैक्सीन का डोज लेने के बाद दर्द से मुक्ति पा चुका यह व्यक्ति इटावा जिले की ताखा तहसील के ढांडेहार गांव का रहने वाला है.

  • Share this:
इटावा. दुनिया भर मे फैली कोरोना (Corona) महामारी रोकने के लिए वैक्सीन (vaccine) लगाई जा रही है, लेकिन उत्तर प्रदेश के इटावा (Etawah) जिले के एक शख्स का दावा है कि कोविड वैक्सीन लगवाने के बाद उसकी कमर मे हो रहा करीब दस साल पुराना दर्द पूरी तरह से गायब हो गया है. कोविड वैक्सीन का डोज लेने के बाद दर्द से मुक्ति पा चुका यह व्यक्ति इटावा जिले की ताखा तहसील के ढांडेहार गांव का रहने वाला है. 55 साल के गोरेलाल शाक्य ने 15 अप्रैल को कोवीशील्ड की पहली डोज ली थी. उसके बाद से ही करीब दस साल से हो रहा कमर का दर्द पूरी तरह से दूर हो गया है.

इटावा जिला के ताखा तहसील के ग्राम टांडेहार के रहने वाले गोरेलाल शाक्य के शरीर में दर्द हो रहा था. जिसका उन्होंने इटावा लेकर पास-पड़ोस के जनपदों में इलाज कराया था, लेकिन दर्द से उन्हें कोई राहत नहीं मिली. एक तरफ कोरोना जैसी महामारी से पूरा देश भयभीत था, तो दूसरी तरफ गोरेलाल शाक्य अपने शरीर के दर्द से परेशान थे. गांव टाडेहार में लगना शुरू हुई तो वैक्सीन लगवाने के लिए गोरेलाल शाक्य ने बढ़कर हिस्सा लिया और वेक्सीन भी लगवाई.

वेक्सीन लगने से गोरेलाल के शरीर में हो रहे सालों का दर्द ऐसे गायब हो गया, जैसे किसी ने जादू कर दिया हो. जब गोरेलाल शाक्य ताखा तहसील में अपना खेत नपवाने के लिए पहुंचे तो वहां पर मौजूद कुछ लोग वैक्सीन को लेकर कहने लगे कि वैक्सीन लगने से लोग मर रहे हैं. इस पर गोरेलाल शाक्य ने कहा कि कई सालों से हमारे शरीर में दर्द हो रहा था. जिसका इलाज उसने इलाकाई डाक्टरों से भी कराया, लेकिन कोई फायदा नहीं मिला. तो उसने इटावा जाकर इलाज कराया, लेकिन दर्द से राहत नहीं मिली. वैक्सीन लगने से हमारे शरीर से दर्द ऐसे गायब हो गया है, जौसे किसी ने जादू कर दिया हो. इसके बाद तो वह कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिए अपील करने लगे.

गोरेलाल शाक्य ने बताया कि वैक्सीन से किसी भी मानवीय को क्षति नहीं पहुंचती है. वैक्सीन हमेशा कोरोना वायरस के कीटाणु को नष्ट करती है. जिन लोगों ने वैक्सीन का डोज लिया है, उन्हें किसी भी प्रकार की क्षति नहीं पहुंच रही है. इटावा के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा.भगवान दास भिरोरिया का कहना है कि वैज्ञानिक तौर ऐसा कोई तथ्य सामने नहीं आये हैं. इतना जरूर है कि वैक्सीन लगने के बाद बीमारियों से लडने की क्षमता जरूर बढ़ जाती है. अगर किसी को कोविड वैक्सीन लगने के बाद दूसरे किस्म का फायदा हो रहा है तो कुछ कहा नहीं जा सकता है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.