'जिन किसानों के बूते देश-प्रदेश में राज कर रही बीजेपी, उन्हीं की सबसे ज्यादा दुर्गति'

भारतीय किसान यूनियन के उपाध्यक्ष राजेश सिंह चौहान

भारतीय किसान यूनियन के उपाध्यक्ष राजेश सिंह चौहान

किसान नेता राजेश सिंह चौहान ने कहा कि किसान पंचायत में तय किया गया है कि अब प्रदेश भर के किसानों (Farmers) को एकजुट कर वर्ष 2022 के चुनावों में सबसे पहले यूपी से भाजपा (BJP) का सफाया किया जायेगा.

  • Share this:

इटावा. भारतीय किसान यूनियन (Indian Farmer's Union) के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राजेश सिंह चौहान ने आरोप लगाया कि प्रदेश की भाजपा सरकार (BJP Government) के द्वारा किसानों (Farmers) के हक में किये गये सारे वादे झूठे थे. अब इस देश के किसान भाजपा (BJP) को सत्ता से उखाड़ फेंकने के लिये हल्ला बोल करेंगे. संभल में आयोजित यूनियन के टिकैत गुट की राष्ट्रीय पंचायत में हिस्सा लेकर लौटे चौहान ने इटावा में पत्रकारों से वार्ता करते हुए कहा कि भाजपा किसानों के बूते ही देश पर राज कर रही है और आज सर्वाधिक दुर्गति अगर किसी की है तो वह किसान ही है.

उन्होंने कहा कि देश के हर हिस्से में अलग-अलग तरीके की समस्याओं से जूझ रहे किसानों को राहत देने के नाम पर देश और प्रदेश की सरकारों ने कुछ नहीं किया है. यहां तक गन्ना किसानों का भुगतान किये बिना पेराई शुरू हो गई है और एमएसपी को ठेंगा दिखाकर किसानों को व्यापारियों ने लूट लिया.

चौहान ने मीडिया के सवालों के जबाव में कहा कि किसान पंचायत में तय किया गया है कि अब प्रदेश भर के किसानों को एकजुट करके वर्ष 2022 के चुनावों में सबसे पहले प्रदेश से भाजपा का सफाया किया जायेगा. उसके बाद देश की सरकार के खिलाफ देशभर के किसानों को एकजुट कर बड़ा अभियान चलाया जायेगा.

उन्होंने कहा कि आजादी के 73 साल के लंबे अंतराल के बाद भी किसानों के हक में किसी सरकार ने कोई ठोस निर्णय नहीं लिया. देश का पेट भरने वाला किसान आज खुद भूखों मरने की स्थिति में पहुंच गया है.
इस मौके पर यूनियन के जिलाध्यक्ष संजीव, किसान महामंत्री संजेश कुमार यादव, उपाध्यक्ष सुरेंद्र सिंह यादव सहित तमाम किसान नेता मौजूद थे. इससे पहले चौहान का इटावा पहुंचने पर फूल-मालाओं से यूनियन के पदाधिकारियों ने स्वागत किया.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज