UP Panchayat Chunav: इटावा में वोट नहीं देने पर प्रधान प्रत्याशी ने किया हमला, दो महिलाओं समेत 8 घायल

इटावा में पंचायत चुनाव के दौरान हमले का मामला सामने आया है.

इटावा में पंचायत चुनाव के दौरान हमले का मामला सामने आया है.

Etawah News: इटावा में इकदिल थाना क्षेत्र के दीनारपुर गांव में पंचायत चुनाव की वोटिंग के बाद बवाल सामने आया है. यहां एक प्रघान प्रत्याशी ने बीडीसी सदस्य के प्रत्याशी पर हमला कर दिया.

  • Share this:
इटावा. पंचायत चुनाव (Panchayat Election) में वोटिंग के बाद आरोप-प्रत्यारोप को लेकर एक-दूसरे पर हमले शुरू हो गए हैं. ये घटनाएं पुलिस के लिए मुसीबत का सबब बन गई हैं. इटावा (Etawah) में ऐसा ही सनसनीखेज मामला हुआ है, जहां पर मतदान के बाद हमले की घटना सामने आई है. इकदिल थाना क्षेत्र के दीनारपुर गांव में पक्ष में मतदान न कराने का आरोप लगाकर निवर्तमान प्रधान और प्रधान प्रत्याशी ने साथियों के साथ बीडीसी सदस्य पद के उम्‍मीदवार के घर पर हमला बोल दिया.

घायलों ने फायरिंग की बात कही है, लेकिन पुलिस के किसी भी अधिकारी ने फायरिंग की पुष्टि नहीं की है. आरोप है कि बीडीसी सदस्य प्रत्याशी, उसके समर्थकों व परिजनों को लाठी-डंडे से जमकर पीटा गया. पथराव व फायरिंग से गांव में अफरा-तफरी मच गई.

8 लोग घायल, एक गंभीर हालत में सैफई रेफर

पुलिस ने घायल दो महिलाओं समेत 8 लोगों को जिला अस्पताल भेजा है. एक को सैफई रेफर किया गया है. इकदिल थाना क्षेत्र की दीनारपुर ग्राम पंचायत से गांव के ओम प्रकाश बीडीसी सदस्य पद के लिए चुनाव में उतरे हैं. ओम प्रकाश इसी ग्राम पंचायत से प्रधान पद प्रत्याशी पंकज पाल का समर्थन कर रहे थे. ओम प्रकाश ने बताया कि गांव के निवर्तमान प्रधान व प्रधान पद के प्रत्याशी आशू यादव इस बात से नाराज थे.
प्रधान प्रत्याशी आशू यादव पर हमला कराने का आरोप

ओम प्रकाश का आरोप है कि रात करीब नौ बजे प्रधान प्रत्याशी पंकज पाल के भाई सुनील व अन्य समर्थकों के साथ घर के बाहर बैठे थे. इस दौरान वोट और सपोर्ट न करने पर नगला पंक्षी गांव के आशू ने साथियों के साथ घर पर हमला बोल दिया. साथ बैठे लोगों व परिवार के लोगों को लाठी-डंडे से पीटा. ओम प्रकाश ने पथराव और तमंचों से फायरिंग करने का भी आरोप लगाया है. सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल ओम प्रकाश, संजीव कुमार, भूरे सिंह, सुनील कुमार, उमेश, संगीता, अंशू, राजवीर को जिला अस्पताल भेजा है. इनमें राजवीर की हालत गंभीर देख डाक्टरों ने उसे सैफई रेफर कर दिया.

विधायक भी पहुंची एसएसपी से मिलने



इधर, घटनास्थल पर सीओ सिटी राजीव प्रताप सिंह, इकदिल थाना प्रभारी जीवाराम यादव फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और मामले की जांच की. थाना प्रभारी के मुताबिक पंचायत चुनाव में समर्थन व मतदान को लेकर बीडीसी सदस्य प्रत्याशी व निवर्तमान प्रधान और प्रधान प्रत्याशी में झगड़ा हुआ है. तहरीर मिलने पर दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी. फायरिंग की पुष्टि नहीं हुई है. इस घटना के बाद एसएसपी डॉ.ब्रजेश कुमार सिंह से मिलने के लिए भर्थना विधायक श्रीमती सावित्री कठेरिया आईं, जिन्होंने पूरी घटना की गहनता से जांच के बाद आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही की बात कही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज