• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • 33 साल से काबिज शिवपाल की जगह अब बेटे आदित्य बनेंगे इटावा जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष!

33 साल से काबिज शिवपाल की जगह अब बेटे आदित्य बनेंगे इटावा जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष!

UP: इटावा सहाकारी बैंक के अध्यक्ष पद पर शिवपाल यादव के बेटे आदित्य की निर्विरोध जीत तय मानी जा  रही है.

UP: इटावा सहाकारी बैंक के अध्यक्ष पद पर शिवपाल यादव के बेटे आदित्य की निर्विरोध जीत तय मानी जा रही है.

UP News: शिवपाल सिंह यादव 1988 में पहली बार इटावा जिला सहाकारी बैंक के चैयरमैन बने थे. उसके बाद से लगातार काबिज रहे हैं. लेकिन भाजपा सरकार में नये नियम के तहत लगातार दो बार निर्वाचित कोई भी प्रतिनिधि दोबारा चुनाव नहीं लड़ सकता.

  • Share this:

इटावा. प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Singh Yadav) के बेटे आदित्य (Aditya Yadav) इटावा जिला सहकारी बैंक के नए अध्यक्ष बनेंगे. इटावा जिला सहकारी बैंक की प्रबंध समिति के चुनाव में आदित्य यादव के निविर्रोध डायरेक्टर बनने के बाद इस बात की चर्चाएं आम हो गई हैं. सिर्फ यही नहीं शिवपाल सिंह ने अपनी बेटी डॉ. अनुभा यादव को भी इटावा जिला सहकारी बैंक में डायरेक्टर के पद पर निर्वाचित करवाया है.

1988 से इटावा जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष के पद पर काबिज शिवपाल सिंह यादव अब नए नियम के तहत बोर्ड से बाहर हो गए हैं, इसलिए नए बोर्ड का गठन किया गया है. नए बोर्ड का चुनाव 27 और 28 सितंबर को इटावा जिला सहाकरी बैंक परिसर में ही होगा. इटावा-औरैया की सहकारिता पर प्रसपा राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव का कब्जा अभी बरकरार है. इसका प्रत्यक्ष प्रमाण को डीसीबी (जिला सहकारी बैंक) की प्रबंध समिति के चुनाव में संचालक के लिए नामांकन दाखिल करने के दौरान प्रकट हुआ.

दोनों जिलों से 14 संचालक चुने गये हैं. डीसीबी मुख्यालय भवन पर सिटी मजिस्ट्रेट उमेश कुमार मिश्र ने चुनाव अधिकारी के रूप में प्रसपा राष्ट्रीय अध्यक्ष के बेटे पीसीएफ चेयरमैन आदित्य अंकुर यादव ने इटावा क्षेत्र से अपना नामांकन किया. सेवानिवृत्त सीओ रामनाथ यादव की पत्नी पूर्व सभासद शकुंतला यादव, सोनपाल बृजेंद्र बहादुर सिंह, निवर्तमान उप सभापति विश्वनाथ सिंह सेंगर के पुत्र नितेंद्र सिंह संजीव कुमार तथा राजनारायण, निर्मला देवी, सुभाष चंद्र, शारदा देवी तथा ताले सिंह, कोमल सिंह रामबहादुर तथा प्रसपा राष्ट्रीय अध्यक्ष की पुत्री डा. अनुभा यादव नामांकन दाखिल किए.

प्रसपा राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने चुनाव प्रक्रिया के शुरूआती दौर से अपने साथियों संग ऐसी रणनीत तैयार की, जिससे नामांकन और दाखिल नहीं हुए. आदित्य यादव के निर्विरोध सभापति होने की संभावना है. 33 साल से लगातार सभापति रहे प्रसपा राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव नियमों के तहत अब सभापति नहीं बन सकते हैं. इसके तहत अब उनके बेटे पीसीएफ चेयरमैन आदित्य अंकुर यादव के सभापति पद पर निर्विरोध चुने जाने की संभावना बलवती हो गई है.

शिवपाल सिंह यादव 1988 मे पहली दफा इटावा जिला सहाकारी बैंक के चैयरमैन बने थे, उसके बाद से लगातार काबिज रहे हैं. लेकिन भाजपा सरकार में ने नये के तहत लगातार दो दफा निर्वाचित होने बाद कोई भी प्रतिनिधि दुबारा चुनाव नहीं लड़ सकेगा.

सिर्फ इतना ही नहीं आदित्य यादव के शिवपाल सिंह यादव के स्थान पर जसवंतनगर विधानसभा से भी चुनाव लड़ने की अटकलें लगाई जा रही हैं. इस बात की चर्चाएं इटावा और शिवपाल सिंह यादव के निर्वाचन क्षेत्र जसवंतनगर मे बडे स्तर पर चल रही हैं लेकिन अभी इस बात की पुष्टि पीएसपी संगठन की ओर से अधिकारिक तौर पर नहीं की जा रही है.

आदित्य के जसवंतगर से विधानसभा चुनाव लड़ने की चर्चा तब शुरू हुई, जब शिवपाल सिंह यादव के संभल के गुन्नौर विधानसभा से चुनाव लडने की चर्चाए शुरू हुई हैं. ऐसा कहा जा रहा है कि शिवपाल सिंह यादव जसवंनगर छोड़कर गुन्नौर जा रहे हैं इसलिए उनके स्थान पर बेटे आदित्य को चुनाव लड़ने के लिए तैयारी करने का संकेत दे दिया गया है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज