होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /सैफई मेडिकल कॉलेज में गोरखपुर के छात्र की संदिग्ध मौत, CM योगी ने 48 घंटे में तलब की रिपोर्ट

सैफई मेडिकल कॉलेज में गोरखपुर के छात्र की संदिग्ध मौत, CM योगी ने 48 घंटे में तलब की रिपोर्ट

इटावा: सैफई मेडिकल कॉलेज में गोरखपुर के छात्र हिमांशु गुप्ता की संदिग्ध मौत.

इटावा: सैफई मेडिकल कॉलेज में गोरखपुर के छात्र हिमांशु गुप्ता की संदिग्ध मौत.

Saifai Medical College: हॉस्टल में छात्र की मौत से हड़कंप मचा हुआ है. बेटे के मौत की सूचना पाकर छात्र के माता पिता समेत ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

सैफई मेडिकल कॉलेज में गोरखपुर के छात्र की संदिग्ध मौत
कमरे में फांसी के फंदे से लटका मिला शव
परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप

इटावा: उत्तर प्रदेश के सैफई मेडिकल विश्वविद्यालय में एक छात्र की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत का सनसनीखेज मामला सामने आया है. यहां एमबीबीएस (MBBS Student) के फर्स्ट ईयर के छात्र की संदिग्ध मौत के बाद हड़कंप मच गया. मृतक छात्र हिमांशु गुप्ता गोरखपुर जिले का रहने वाला था. घटना शनिवार की है. बताया जा रहा है कि हिमांशु गुप्ता शाक्यमुनि हॉस्टल के कमरा नंबर 209 में रहता था. शनिवार को मृतक छात्र जब मेस में खाना खाने के लिए नहीं गया तो रात तकरीबन 9 बजे हिमांशु के दोस्त उसके कमरे में गए. जहां कमरा अंदर से बंद था. काफी देर तक आवाज देने के बाद भी जब हिमांशु ने गेट नहीं खोला तो सुरक्षा गार्डों को सूचना दी गई.

सुरक्षा गार्डों की मदद से अन्य छात्रों ने गेट तोड़कर कर मृतक के कमरे में प्रवेश किया. कमरे के अंदर का दृश्य देख सुरक्षाकर्मियों समेत सभी छात्रों के रोंगटे खड़े हो गए. अंदर मृतक हिमांशु का शव चादर के फंदे से पंखे में लटका हुआ था.

छात्रों ने फौरन इसकी सूचना विश्वविद्यालयप्रशासन को दी. जहां विश्वविद्यालय के स्टॉफ ने तत्काल इसकी सूचना पुलिस को दी. मौके लर पहुंची पुलिस जांच में जुट गई है.

परिजनों ने की CBI जांच की मांग
हॉस्टल में छात्र की मौत से हड़कंप मचा हुआ है. बेटे के मौत की सूचना पाकर छात्र के माता पिता समेत अन्य परिजन आज सुबह तड़के ही विश्वविद्यालय पहुंचे. मृतक के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो रहा है. पुलिस प्रथम दृष्टया छात्र की मौत को आत्महत्या बता रही है. हालांकि पुलिस को मृतक के कमरे से कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है. हिमांशु के माता- पिता ने इसे हत्या बताया है. हिमांशु की मां सरिता ने साफ साफ कहा कि वो मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गोरखपुर शहर की रहने वाली हैं. योगी जी उन्हें न्याय दिलाएं. मृतक की मां ने बेटे की मौत के मामले में सीबीआई जांच कराने की मांग की है. उन्होंने कहा कि उनके बेटे की साजिश के तहत हत्या की गई है.

पुलिस ने जांच की बात कही
पुलिस की प्राथमिक छानबीन में भी खुदकशी की वजह स्पष्ट नहीं हो सकी है. पुलिस पास के कमरों में रहने वाले अन्य छात्रों और सहपाठियों से पूछताछ कर रही है. इस दौरान पुलिस को तलाशी के दौरान कोई सुसाइड नोट भी नहीं मिला. पुलिस अधीक्षक ग्रामीण, सत्यपाल सिंह ने कहा कि छात्र के मौत की सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची थी. जहां शव को कब्जे में लेकर तीन डाक्टरों के पैनल के माध्यम से पोस्टमॉर्टम कराया गया है. उन्होंने कहा कि आगे की कार्रवाई पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद की जाएगी.

सीएम योगी ने 48 घंटे में तलब की रिपोर्ट
उत्तर प्रदेश के इटावा में सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी में छात्र की मौत पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने सख्त रूप अपनाया है. मुख्यमंत्री योगी ने गोरखपुर के एमबीबीएस छात्र हिमांशु गुप्ता की संदिग्ध मौत पर दुःख व्यक्त करते हुए इटावा के जिलाधिकारी और एसएसपी को पूरे मामले की जांच करने के निर्देश दिए है.
मुख्यमंत्री ने 48 घंटे में अधिकारियों से रिपोर्ट मांगी है. एक सरकारी प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी दी है.

सवालों के घेरे में विश्वविद्यालय प्रशासन
हिमांशु की मौत के बाद उसके साथियों में शोक व्याप्त है. बताया गया कि हिमांशु काफी मिलनसार था. फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है. मेडिकल यूनिवर्सिटी के अधिकारी भी मौके पहुंचे और मामले की उच्चस्तरीय जांच की बात कह रहे हैं. लेकिन देश भर में बेहतर इलाज के लिए ग्रामीण क्षेत्र के लोकप्रिय सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी में एक के बाद एक जूनियर डाक्टरों के आत्महत्या की घटनाओं ने यहां की प्रशासनिक व्यवस्था पर सवालिया निशान खड़ा किया है. इसके पहले सैफई में साल 2019 में हत्या व आत्महत्या की तीन घटनाएं हुई थी. अक्टूबर 2020 में भी एक आत्महत्या की घटना हुई थी. अब 2022 में यह 5वीं घटना घटित हुई है.

Tags: Chief Minister Yogi Adityanath, CM Yogi Aditya Nath, Etawah news, Saifai Medical University, Uttarpradesh news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें