सपा-बसपा गठबंधन पर बोले मंत्री, राजनैतिक फायदे के लिए किया ठगबंधन

यूपी सरकार के राज्य मंत्री व अनुसूचित जाति वित्त एवं विकास निगम के अध्यक्ष लालजी प्रसाद निर्मल जिले के उरई में बीजेपी द्वारा आयोजित प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन में बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए थे.

News18 Uttar Pradesh
Updated: January 27, 2019, 9:04 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: January 27, 2019, 9:04 PM IST
जालौन में बीजेपी द्वारा आयोजित प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन में राज्य मंत्री लालजी प्रसाद निर्मल ने यूपी में सपा एवं बसपा के गठबंधन को लेकर बयान जारी किया है. उन्होंने इस गठबंधन को ठगबंधन करार देते हुए कहा कि दोनों दलों ने राजनैतिक फायदे के लिए यह बेमेल गठबंधन बनाया है.

वहीं कांग्रेस में प्रियंका गांधी की एंट्री को लेकर उन्होंने कहा कि राहुल बाबा हर मोर्चे पर बिफल हुए हैं. जिसके बाद अब वह प्रियंका को लेकर आए हैं. लेकिन राहुल के लिए तमाम प्रचार करने के बावजूद भी प्रियंका अभी तक अपनी छाप नहीं छोड़ सकी हैं. उन्होंने कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी फिर से देश के प्रधानमंत्री बनेंगे.

बता दें कि यूपी सरकार के राज्य मंत्री व अनुसूचित जाति वित्त एवं विकास निगम के अध्यक्ष लालजी प्रसाद निर्मल जिले के उरई में बीजेपी द्वारा आयोजित प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन में बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए थे. जहां उन्होंने आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर प्रबुद्ध जनों को सम्मानित करते हुए लोकसभा चुनाव में जुटने का आवाहन किया था.

जिसके बाद मीडिया से मुखातिब होते हुए उन्होंने विरोधियों पर जमकर हमला बोला. उन्होंने यूपी में सपा बसपा गठबंधन निशाना साधते हुए इसे ठगबंधन करार दिया. उन्होंने कहा कि यह गठबंधन जातिवादी एवं परिवारवादी लोगों का समूह है, जोकि काफी परेशान है.

वहीं उन्होंने प्रियंका गांधी को लेकर कहा कि राहुल गांधी हर मोर्चे पर फेल हो चुके हैं. इतने लंबे अंतराल के बाद प्रियंका के कांग्रेस में आने का कोई अर्थ नही है. प्रियंका ने हर लोकसभा चुनाव में राहुल का प्रचार किया लेकिन वह भी राहुल को जीत नहीं दिला सकीं हैं. (रिपोर्ट-प्रदीप कुमार त्रिपाठी)

ये भी पढ़ें: योगी सरकार के मंत्री ने उठाई यूपी के विभाजन की मांग, बोले-तभी संभव होगा पूर्वांचल का विकास

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इटावा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 27, 2019, 9:04 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...