अपना शहर चुनें

States

मुलायम ने भाई शिवपाल को जमकर सराहा, बेटे को बताया जिद्दी

सपा संस्थापक मुलायम सिंह जसवंतनगर में भाई शिवपाल यादव के लिए एक सभा में वोट देने की अपील कर रहे थे. इसी दौरान उनकी एक पुरानी टीस फिर से निकल आई. उन्होंने जसवंतनगर के लोगों से कहा कि आप ही लोगों ने मुझे बड़ा नेता बनाया. हम तो पीएम बनने जा रहे थे, लेकिन...
सपा संस्थापक मुलायम सिंह जसवंतनगर में भाई शिवपाल यादव के लिए एक सभा में वोट देने की अपील कर रहे थे. इसी दौरान उनकी एक पुरानी टीस फिर से निकल आई. उन्होंने जसवंतनगर के लोगों से कहा कि आप ही लोगों ने मुझे बड़ा नेता बनाया. हम तो पीएम बनने जा रहे थे, लेकिन...

सपा संस्थापक मुलायम सिंह जसवंतनगर में भाई शिवपाल यादव के लिए एक सभा में वोट देने की अपील कर रहे थे. इसी दौरान उनकी एक पुरानी टीस फिर से निकल आई. उन्होंने जसवंतनगर के लोगों से कहा कि आप ही लोगों ने मुझे बड़ा नेता बनाया. हम तो पीएम बनने जा रहे थे, लेकिन...

  • Share this:
समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने सोमवार को भाई शिवपाल सिंह यादव के लिए जसवंतनगर में वोट मांगा. इस दौरान मुलायम सिंह यादव ने कहा कि अखिलेश मेरा बेटा है. लेकिन जिद्दी है. जिद करके मुझसे सारे काम करा लेता है.

हिन्दू विद्यालय इण्टर कालेज में आयोजित रैली में मुलायम ने कहा कि जसवंतनगर सीट हमेशा से ही सपा की रही है. इस बार भी शिवपाल सिंह यादव को जनता जिताए. उन्होंने कहा कि जसवंतनगर ने ही मुझे बड़ा नेता बनाया. हम तो पीएम बनने जा रहे थे, लेकिन अपने लोगों ने ही काम खराब किया.

मुलायम ने कहा कि छोटे भाई शिवपाल ने भाई का रोल बहुत अच्छा निभाया है. मुझे अपने भाई पर गर्व है. कलयुग में भाई शिवपाल जैसा मिल जाये तो फिर किसी चीज की आवश्यकता ही नहीं. उन्होंने अपील की कि जसवंतनगर से चुनाव लड़ रहे सभी प्रत्याशियों की जमानतें जब्त करा देना और शिवपाल को भारी मतों से जिता देना.



मुलायम सिंह यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी की भूमिका लोहिया जी के जमाने से ही ऐसी रही है कि हमारी करनी और कथनी में कोई अन्तर नहीं है. हमने जितना रोजगार नौजवानों को दिया, उतना देश के किसी भी अन्य राज्य में नहीं दिया गया. जिनको हम रोजगार नहीं दे सके उन्हें रोजगार भत्ता दिया.
इससे पहले शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि पूरा जसवंतनगर मेरा परिवार है और नेताजी करोड़ों मजदूरों व किसानों की आवाज हैं. यहां की जनता ने हमेशा नेताजी व समाजवादी पार्टी को सम्मान दिया है और विकास पहिया नेताजी की सरकार बनने के बाद ही शुरू हुआ. नेताजी के बाद यह क्षेत्र उन्हें विरासत में मिला और तभी से इस क्षेत्र के विकास की जिम्मेदारी मेरी हो गई. मैंने हमेशा क्षेत्र का मान रखा है और इस क्षेत्र का विकास मेरी प्राथमिकता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज