Home /News /uttar-pradesh /

samajwadi party fully with akhilesh yadav says mulayam singh yadav nodark

Exclusive: 'चाचा-भतीजे' की अनबन के बीच अखिलेश यादव को मिला पिता का साथ, जानें क्‍या बोले मुलायम सिंह यादव?

मुलायम सिंह यादव ने कहा है कि समाजवादी पार्टी पूरी तरह से अखिलेश यादव के साथ है.

मुलायम सिंह यादव ने कहा है कि समाजवादी पार्टी पूरी तरह से अखिलेश यादव के साथ है.

Mulayam Singh Yadav: सपा प्रमुख अखिलेश यादव और प्रसपा चीफ शिवपाल सिंह यादव के बीच चल रही अनबन के दौरान मुलायम सिंह यादव ने बड़ा बयान दिया है. उन्‍होंने कहा कि सभी समाजवादी एकजुट होकर पार्टी प्रमुख के साथ ना केवल खड़े हों बल्कि उनको ताकत देने का भी काम करें.

अधिक पढ़ें ...

इटावा. चाचा और भतीजे में अनबन के बीच समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने बड़ा बयान दिया है. उन्‍होंने कहा कि समाजवादी पार्टी पूरी तरह से अखिलेश यादव के साथ है. न्‍यूज़ 18 से एक्सक्लूसिव बातचीत में नेताजी ने कहा कि सभी समाजवादी एकजुट होकर पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव के साथ ना केवल खड़े हों बल्कि उनको ताकत देने का भी काम करें. सभी मजबूती से कंधे से कंधा मिलाकर पार्टी को मजबूती प्रदान करने का काम करें. बता दें कि पिछले काफी दिनों से सपा प्रमुख अखिलेश यादव के चाचा और प्रसपा प्रमुख शिवपाल सिंह यादव के भारतीय जनता पार्टी के करीब होने की बातें कही जा रही हैं. साथ ही ऐसी अटकलें हैं कि वह जल्द ही भाजपा में शामिल हो सकते हैं.

इसी बीच समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव का बयान बेहद महत्वपूर्ण माना जा रहा है. ऐसा लगता है कि मुलायम सिंह यादव अपने भाई शिवपाल सिंह यादव के बजाए अपने बेटे सपा प्रमुख अखिलेश यादव के साथ खड़े हुए दिखाई दे रहे हैं. दरअसल 26 मार्च को लखनऊ में सपा बैठक में ना बुलाए जाने से खफा शिवपाल ने नाराजगी जताने के बाद इटावा आकर अपने समर्थकों से बैठक कर 27 मार्च को दिल्ली जाकर नेताजी से मिलकर अपनी बात रखी. इसी बीच 29 मार्च को सपा गठबंधन के सभी विधायकों की बैठक में उनको बुलाया गया, लेकिन वह नहीं पहुंचे.

एमएलसी चुनाव के दौरान शिवपाल ने मुलायम से बनाई दूरी

वहीं, इटावा-फर्रूखाबाद सीट के एमएलसी चुनाव के लिए मुलायम सिंह यादव 9 अप्रैल से लगातार इटावा में थे और इस दौरान शिवपाल ने इटावा में होने के बाद भी नेताजी से मिलना मुनासिब नहीं समझा. इतना ही नहीं, 9 मार्च को मतदान के समय एक पत्रकार ने शिवपाल से नेताजी नहीं मिलने की बात पूछी तो वह खासे नाराज होकर बोले कि तुम मिल आयो.

भाजपा में जाएंगे शिवपाल!

शिवपाल सिंह यादव के भाजपा में शामिल होने की अटकलों से सियासी पारा चढ़ा हुआ है. हालांकि अभी तक तस्वीर साफ नहीं हो पाई है. जब इस मामले पर प्रसपा चीफ से पूछा गया तो उन्‍होंने कुछ भी कहने से इंकार कर दिया. वैसे इस दौरान उन्‍होंने ये जरूर कहा कि जब कुछ होगा तो बुला कर बता देंगे. इंतजार कीजिए कुछ अच्छी सूचना मिलेगी. राजनीतिक हल्कों में चल रही चर्चाओं पर यकीन किया जाए तो शिवपाल सिंह यादव की भाजपा में शामिल होने के मुद्दे पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से हो मुलाकात हो चुकी है, लेकिन इसकी पुष्टि कोई नहीं कर रहा है. यही नहीं, शिवपाल सिंह यादव की चुप्‍पी को लेकर उनके आगे पीछे चलने वाले कर्मठ समर्थक भी हैरान हैं.

बता दें कि प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव के भाजपा में जाने को लेकर 26 मार्च से अटकलें लग रही हैं. कहा जा रहा है कि भाजपा उन्हें विधानसभा के डिप्टी स्पीकर के पद से नवाज सकती है. अटकलों का बाजार गर्म है कि शिवपाल भाजपा के संपर्क में हैं और डिप्टी स्पीकर बनने के लिए तैयार भी हैं, लेकिन वह कब जाएंगे यह तय नहीं हैं. इस बीच यूपी के डिप्‍टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के साथ योगी सरकार के उच्च शिक्षा मंत्री योगेंद्र उपाध्याय भी कह चुके हैं कि भाजपा को अब किसी भी पार्टनर की कोई जरूरत नहीं है, क्योंकि उत्तर प्रदेश की सरकार ना केवल पूर्ण बहुमत में हैं बल्कि दो तिहाई बहुमत भी उसके पास है. हालांकि पूर्व केंद्रीय राज्य मंत्री और इटावा से भाजपा सांसद प्रो. रामशंकर कठेरिया जरूर शिवपाल को लेकर कहते हैं कि यदि वह भाजपा में अपनी आस्था जता रहे हैं तो ये अच्छी बात है.

Tags: Akhilesh yadav, Mulayam Singh Yadav, Shivpal singh yadav

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर