योगी सरकार के ‘लव जिहाद’ कानून पर सपा का हमला, कहा- जिन्हें लव का मतलब नहीं मालूम वो बना रहे कानून

इस समय उत्‍तर प्रदेश में जंगलराज की सरकार चल रही है: अभिषेक मिश्रा

योगी सरकार (Yogi Government) के प्रस्तावित 'लव जिहाद' कानून (Love Jihad) पर समाजवादी पार्टी के नेता और पूर्व कैबिनेट मंत्री अभिषेक मिश्रा (Abhishek Mishra) ने तंज कसा है. उन्‍होंने इटावा में कहा कि जिन्हें लव का मतलब नहीं मालूम और वह कानून बना रहे हैं.

  • Share this:
इटावा. उत्‍तर प्रदेश की योगी सरकार (Yogi Government) के प्रस्तावित 'लव जिहाद' कानून (Love Jihad) पर सवाल उठाते हुए समाजवादी पार्टी के नेता और पूर्व कैबिनेट मंत्री अभिषेक मिश्रा (Abhishek Mishra) ने कहा है कि जिन्हें लव का मतलब नहीं मालूम, वह लव की बात कर रहे और कानून बना रहे हैं. साथ ही इस दौरान उन्‍होंने कहा कि इस सरकार में किसान और बेरोजगार युवक परेशान हैं. जबकि अपराध के सभी रिकार्ड टूट चुके हैं. वहीं, भाजपा सरकार में बेटियां और महिलाएं असुरक्षित हैं. जबकि प्रदेश के हर शहर में अपराध चरम पर है, तो हत्या, लूट और बलात्कार की घटनाएं हो रही हैं. इस समय उत्‍तर प्रदेश में जंगलराज की सरकार चल रही है.

'लव जिहाद' कानून पर कसा तंज
इस दौरान समाजवादी पार्टी के नेता और पूर्व कैबिनेट मंत्री अभिषेक मिश्रा ने कहा कि भाजपा सरकार में किसान और बेरोजगार बहुत ज्यादा परेशान हैं. लोगो को नौकरियां नहीं मिल रही हैं. जबकि 'लव जिहाद' कानून को लेकर कहा कि जो लोग लव का मतलब नहीं जानते, वह लव पर कानून बनाने की बात कर रहे हैं. यूपी में अपराध के सभी रिकॉर्ड टूट चुके हैं और सूबे की सरकार फेल साबित हो रही है. इसके अलावा उन्‍होंने कहा कि यूपी की जनता 2022 में अखिलेश यादव के हाथ में सूबे की कमान सौंपने का कार्य करने वाली है. उन्होंने कहा कि हम लोग समाजवादी सरकार के द्वारा करवाये गए विकास कार्यों को लेकर जनता के बीच जा रहे हैं.

'लव जिहाद' पर सरकार सख्‍त
देश में ‘लव जिहाद’ को लेकर जारी चर्चाओं के बीच उत्तर प्रदेश सरकार मंगलवार को अपनी कैबिनेट बैठक में इसके खिलाफ कानून पर अंतिम मुहर लगाने की तैयारी में है. इस मसले पर योगी सरकार पहले ही अपना रुख साफ कर चुकी है कि यूपी में लव जिहाद के नाम पर धर्म परिवर्तन कराने वाले और महिलाओं के साथ अत्याचार करने वालों की खैर नहीं है. इस बीच उत्तर प्रदेश लॉ कमीशन के प्रमुख न्यायमूर्ति (रिटायर्ड) आदित्यनाथ मित्तल ने कहा है, 'लव जिहाद पर हमारी रिपोर्ट में अवैध धर्मांतरण को रोकने का प्रावधान है. कोई भी धर्मांतरण गलत बयानी या किसी प्रलोभन के माध्यम से किया गया तो इसे अवैध करार दिया जाएगा और 3 साल की सजा होगी.'

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.