Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    शिवपाल का बड़ा खुलासा, बीजेपी ने दिया था पार्टी में शामिल होने का ऑफर, मना करने के बाद भी...

    शिवपाल यादव ने कहा कि उन्होंने बहुत सोच समझ कर अलग पार्टी बनाने का निर्णय लिया.
    शिवपाल यादव ने कहा कि उन्होंने बहुत सोच समझ कर अलग पार्टी बनाने का निर्णय लिया.

    शिवपाल यादव (Shivpal Singh Yadav) ने कहा कि बेसक उन्होंने अपनी पार्टी प्रगतिशील समाजवादी का गठन कर लिया हो, लेकिन आज भी उनके अपने ही लोग उनकी पार्टी को बीजेपी की बी टीम बता कर तरह-तरह की चर्चाएं करते हैं.

    • Share this:
    रिपोर्ट- दिनेश शाक्य

    इटावा. समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) से अलग होकर अपनी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) बनाने वाले शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Singh Yadav) बड़ा खुलासा करते हुए दावा किया कि भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने उनको पार्टी में शामिल होने का ऑफर दिया था. लेकिन उन्होंने बीजेपी की सदस्यता ग्रहण करने के बजाय अपनी खुद की पार्टी बनाना उचित समझा. इटावा में एक निजी स्कूल के शुभारंभ मौके पर शिवपाल यादव ने ये बात कही.

    शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि बेसक उन्होंने अपनी पार्टी प्रगतिशील समाजवादी का गठन कर लिया हो, लेकिन आज भी उनके अपने लोग उनके दल को बीजेपी की बी टीम बता कर तरह-तरह की चर्चाएं करते हैं. उन्होंने कहा कि उनका निर्णय गलत नहीं है. बहुत सोच समझ कर उन्होंने पार्टी बनाने का निर्णय लिया. आज बीजेपी की जो स्थिति है वह किसी से छुपी नहीं है. हर ओर पार्टी का विरोध जनता करने लगी है.



    सपा-बसपा गठबंधन पर कसा तंज
    विधानसभा चुनाव 2022 के मद्देनजर समाजवादी पार्टी से गठबंधन को लालायित शिवपाल ने सपा-बसपा गठबंधन पर तंज कसा और कहा कि बसपा- सपा के बीच गठबंधन हो चुका है और नतीजा भी सबके सामने आ चुका है. अब अगर बसपा- भाजपा की दोस्ती हो रही है, तो फिर भाजपा को क्या फायदा पहुंचेगा यह तो तब पता चलेगा जब नतीजे आएंगे.

    लव जिहाद पर सीएम योगी आदित्यनाथ को सलाह 

    लव जिहाद पर कानून बनाने के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बयान पर शिवपाल ने कहा कि पहले से ही बहुत से कानून बने हुए हैं. उनका सही ढंग से क्रियान्वयन किया जाए, तो किसी और कानून की जरूरत नहीं पड़ेगी. उन्होंने कहा कि लोगों को समझाने के लिए नैतिक शिक्षा का इंतजाम किया जाए तो ये बहुत बेहतर रहेगा.

    मायावती पर निशाना

    मायावती पर निशाना साधते हुए शिवपाल यादव ने कहा कि बहन जी के बारे में हर कोई बहुत अच्छे से जानता है कि उनका इतिहास कैसा रहा है. नेता जी को भी उन्होंने बदनाम किया, जबकि नेताजी आज की तारीख में हर दल के लिए सर्वमान्य नेता बने हुए हैं. बीजेपी से मिलकर बीएसपी ने तीन बार सरकार बनाई. अब अगर बसपा के विधायक टूट रहे हैं तो फिर इसमें किसी और का क्या कुसूर है.

    उन्होंने कहा कि ऐसा लगता है कि बहन जी के विधायक टिकट वितरण और शोषण की वजह से उनसे दूर जा रहे हैं. जब उनके खुद के विधायक उनसे अलग भाग रहे हैं तो फिर दूसरों पर आरोप लगाने से फायदा क्या. उन्हें किसी दूसरे पर आरोप नहीं लगाना चाहिए, बल्कि अपने गिरेबां में झांककर देखना चाहिए.

    मंत्री मोहसिन रजा के बयान पर उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी हमेशा से कट्टरपंथियों के खिलाफ रही है. कभी भी कट्टरपंथियों का पक्ष उनकी पार्टी ने नहीं लिया है.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज