इटावा : सपा ने जारी की ब्लॉक प्रमुख पद के उम्मीदवारों की सूची, सैफई से फिर मृदुला यादव का नाम

फिलहाल मृदुला यादव सैफई की निवर्तमान ब्लॉक प्रमुख हैं.

फिलहाल मृदुला यादव सैफई की निवर्तमान ब्लॉक प्रमुख हैं.

आज समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष गोपाल यादव ने 8 ब्लॉक में से 7 ब्लॉक के लिए उम्मीदवारों की आधिकारिक सूची जारी कर दी. इसी सूची में सैफई ब्लॉक प्रमुख पद के लिए मृदुला का नाम भी शामिल है.

  • Share this:

इटावा. समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के सरंक्षक मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) की बहु मृदुला यादव (Mridula Yadav) एक बार फिर से सैफई से ब्लॉक प्रमुख (block pramukh) बन सकती हैं. उनके निर्विरोध निर्वाचित होने की उम्मीद जताई जा रही है. आज समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष गोपाल यादव (Gopal Yadav) ने उम्मीदवारों की आधिकारिक सूची जारी कर दी. इसी सूची में सैफई (Saifai) ब्लॉक प्रमुख पद के लिए मृदुला का नाम भी शामिल है.

8 में से 7 ब्लॉक प्रमुख के उम्मीदवार

सपा जिलाध्यक्ष गोपाल यादव ने बताया कि पार्टी नेतृत्व से सहमति पाकर जनपद के 8 ब्लॉक में से 7 के लिए ब्लॉक प्रमुख पद के लिए प्रत्याशी घोषित कर दिए गए हैं. सैफई ब्लॉक से मृदुला यादव, ब्लॉक बसरेहर से वरिष्ठ सपा नेता मेहताब सिंह यादव के नाती राव सुनीत कुमार, बढ़पुरा से पूर्व केकेडीसी छात्र संघ अध्यक्ष आनंद यादव टंटी, ताखा से शशि प्रभा पत्नी अजय यादव, चकरनगर से सुशीला देवी पत्नी शिवकिशोर, महेवा से पवित्रा देवी पत्नी जितेंद्र दोहरे और भरथना से विनोद दोहरे सैफी प्रत्याशी घोषित किए गए हैं. ब्लॉक प्रमुख पद के लिए सपा प्रत्याशियों की घोषणा होने से अन्य दलों में भी इस चुनाव के प्रति सरगर्मियां तेज हो गई हैं.

कौन हैं मृदुला यादव
मृदुला राजद प्रमुख लालू यादव की समधन भी हैं. देश के कई बड़े राजनीतिक घरानों की गिनती में समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव का परिवार भी शामिल है. जिनका दबदबा सैफई सीट पर पिछले 29 वर्षों से कायम है. हाल ही में संपन्न हुए त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के परिणाम आने के बाद मुलायम सिंह यादव की बहु, लालू प्रसाद यादव की समधन और मैनपुरी के पूर्व सांसद तेज प्रताप यादव की मां मृदुला यादव को पुनः सैफई से ब्लॉक प्रमुख का उम्मीदवार बनाने की घोषणा कर दी गई है. मृदुला यादव लगातार दूसरी बार क्षेत्र पंचायत में निर्विरोध बीडीसी सदस्य निर्वाचित हुई थीं.

सैफई चर्चा में

प्रदेश में जब भी चुनाव होते हैं तो एक सीट खुद-ब-खुद चर्चा में आ जाती है, वह सीट मुलायम सिंह यादव के गांव सैफई की है. चुनाव कोई भी हो सैफई में मुलायम परिवार के प्रत्येक सदस्य का दबदबा माना जाता है, फिर चाहे वह चुनाव पंचायत, लोकसभा या विधानसभा का ही क्यों न हो. यही वजह है कि इस सीट पर बीडीसी से जिला पंचायत तक मुलायम सिंह के परिवार के सदस्य ही निर्विरोध निर्वाचित होते रहे हैं.



29 साल पहले सैफई बना था ब्लॉक

29 वर्ष पूर्व जब सैफई ग्राम पहली बार ब्लॉक बना था, तब 1995 में बीडीसी चुनाव में मुलायम सिंह यादव के भतीजे रणवीर यादव निर्विरोध ब्लॉक प्रमुख निर्वाचित हुए थे. लेकिन इसके बाद गांव की तस्वीर बदली और 2002 में उनके देहांत के बाद मुलायम के दूसरे भतीजे यानी बदायूं के पूर्व सांसद धर्मेंद्र यादव इस सीट से ब्लॉक प्रमुख रहे. फिलहाल मृदुला यादव निवर्तमान ब्लॉक प्रमुख हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज