Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    'उनका' और 'उनके' के बीच ऐसे करीब आ रहे हैं चाचा शिवपाल और भतीजे अखिलेश!

    2022 विधानसभा चुनाव के लिए चाचा शिवपाल यादव और भतीजा अखिलेश यादव करीब आ रहे हैं.
    2022 विधानसभा चुनाव के लिए चाचा शिवपाल यादव और भतीजा अखिलेश यादव करीब आ रहे हैं.

    अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) से गठबंधन को लेकर सवाल पूछने पर वे चाचा शिवपाल के लिए 'उनके' शब्द का इस्तेमाल करते हैं. यानी नाम लेने से परहेज करते हैं. वहीं सेम सवाल के जवाब में चाचा शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Yadav) अखिलेश के लिए 'कौन' शब्द का इस्तेमाल करते हैं.

    • Share this:
    इटावा. चाचा शिवपाल यादव (Shivpal Yadav) और भतीजे अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) के बीच बेशक सामंजस्य की बातें हो रही हों, लेकिन एक बड़ी बात जो सामने आई है वो ये कि न तो चाचा की तरफ से भतीजे का नाम लिया जा रहा है और न ही भतीजे की ओर से चाचा के नाम का संबोधन किया जा रहा है. ऐसे में इसके कई मायने लगाये जा रहे हैं.

    दरअसल, दोनों के बीच लंबे अरसे तक चला सत्ता संघर्ष अब भी हर किसी के जेहन में है. इस सबके बीच अखिलेश यादव से गठबंधन को लेकर सवाल पूछने पर वे चाचा शिवपाल के लिए 'उनके' शब्द का इस्तेमाल करते हैं. यानी नाम लेने से परहेज करते हैं. वहीं सेम सवाल के जवाब में चाचा शिवपाल सिंह यादव अखिलेश के लिए 'कौन' शब्द का इस्तेमाल करते हैं.

    वैसे जब जसवंतनगर विधानसभा से सदस्यता रद्द करने की याचिका वापस ली गई थी तब शिवपाल की तरफ से अखिलेश को लिखे धन्यवाद पत्र में प्रिय अखिलेश लिखकर संबोधित किया गया था. जिसकी उस समय खासी चर्चा हुई थी.



    दरअसल शिवपाल सिंह यादव की तरफ से लगातार समाजवादी पार्टी से गठबंधन कर अगला विधानसभा चुनाव लड़ने की बात कही जा रही है. उधर, संसदीय चुनाव में चारों खाने चित होने के बाद अखिलेश भी चाचा से गठबंधन करने को लेकर उत्सुक हैं. बहरहाल, शिवपाल भतीजे अखिलेश यादव के उस ऑफर को लेकर असमंजस में है, जिसमें शिवपाल के लिए जसंवतनगर विधानसभा सीट छोड़ने की बात कही गई और 2022 में राज्य में सपा सरकार बनने पर कैबिनेट मंत्री बनाने का ऐलान किया गया है.
    शिवपाल यादव ने कहा कि कोई क्या कह रहा है हमें उस पर नहीं जाना है. सब बेकार की बातें हैं. पहले हमें अपनी पार्टी और संगठन मजबूत करना है, फिर बीजेपी को सत्ता से उखाड़ फेंकना है. शिवपाल ने कहा कि हमारी पार्टी बन चुकी है और हमारे कार्यकर्ता सड़कों पर जल्द निकलने वाले हैं.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज