Home /News /uttar-pradesh /

UP Election 2022: इटावा में बोले शिवपाल - जिस तरह लक्ष्मण के आदर्श थे राम, वैसे ही मेरे लिए नेताजी

UP Election 2022: इटावा में बोले शिवपाल - जिस तरह लक्ष्मण के आदर्श थे राम, वैसे ही मेरे लिए नेताजी

इटावा में शिवपाल यादव ने अपने बड़े भाई नेताजी में आस्था जताई.

इटावा में शिवपाल यादव ने अपने बड़े भाई नेताजी में आस्था जताई.

Try for Alliance : शिवपाल सिंह यादव ने कहा है कि 2022 यूपी विधानसभा चुनाव के मददेनजर पीएसपीएल जल्द ही एक बड़े राष्ट्रीय दल से गठबंधन करेगी, जिसकी जानकारी सबको साझा कर दी जाएगी. उन्होंने कहा कि जिस तरह लक्ष्मण ने अपने भाई राम को अपना आदर्श माना था, उसी तरह वे भी नेताजी को आदर्श मानकर आगे बढ़ रहे हैं. शिवपाल सिंह यादव बोले कि सपा से गठबंधन पर अपनी बात रख चुके हैं, अब अखिलेश के जवाब में देरी दिख रही है. उनका पीएसपीएल दल सभी छोटे दलों को साथ लेकर चुनाव मैदान में उतरेगा.

अधिक पढ़ें ...

इटावा. न सिर झुका के जियो, न मुंह छुपा के जियो, गमो का दौर भी आए तो मुस्करा के जियो… गीत की ये पंक्तियां प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया (PSPL) के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने दोहराईं. वे सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती से एक दिन पहले इटावा के केके कॉलेज में आयोजित समारोह में बोल रहे थे. उन्होंने कहा कि सरदार वल्लभ भाई पटेल की तरह अडिग होकर जीने की हर किसी को जरूरत है. अगर गमों का दौर भी आए तो उनका डट कर मुकाबला करना चाहिए. उन्होंने कहा कि पीएसपीएल जिस दल में होगी, 2022 में उसी दल की सरकार यूपी में बनेगी.

शिवपाल सिंह यादव ने कहा है कि 2022 यूपी विधानसभा चुनाव के मददेनजर पीएसपीएल जल्द ही एक बड़े राष्ट्रीय दल से गठबंधन करेगी, जिसकी जानकारी सबको साझा कर दी जाएगी. उन्होंने कहा कि जिस तरह लक्ष्मण ने अपने भाई राम को अपना आदर्श माना था, उसी तरह वे भी नेताजी को आदर्श मानकर आगे बढ़ रहे हैं. शिवपाल सिंह यादव बोले कि सपा से गठबंधन पर अपनी बात रख चुके हैं, अब अखिलेश के जवाब में देरी दिख रही है. उनका पीएसपीएल दल सभी छोटे दलों को साथ लेकर चुनाव मैदान में उतरेगा.

इसे भी पढ़ें : अयोध्या में बोले अनुराग ठाकुर: मुलायम सिंह का कुनबा ही नहीं संभाल पाए अखिलेश, अब क्या बढ़ाएंगे

शिवपाल ने कहा कि 12 अक्टूबर से पीएसपीएल की रथयात्रा शुरू हो चुकी है, जो अब रुकने वाली नहीं. किसानों की वेदना बयान करते हुए उन्होंने कहा कि किसानों को खाद की जगह पुलिस की लाठियां मिल रही हैं. शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि सरदार पटेल कट्टरवाद के खिलाफ थे, वे देश का बंटबारा नहीं करना चाहते थे. बल्कि देश को एकजुट रखना चाहते थे. उन्होंने कहा कि यदि सरदार पटेल देश के प्रधानमंत्री होते तो देश की तस्वीर ही अलग होती.

इसे भी पढ़ें : Kanpur: जीका वायरस संक्रमण के 3 मरीज और मिले, तीनों संक्रमित एयरफोर्स के कर्मचारी

12 अक्टूबर से पीएसपीएल प्रमुख शिवपाल सिंह यादव सामाजिक परिवर्तन रथयात्रा लेकर उत्तर प्रदेश भ्रमण पर निकले हुए हैं. शिवपाल यादव लगातार भाजपा को सत्ता से हटाने के लिए यूपी चुनाव 2022 में समान विचारधारा वाली पार्टियों के एकसाथ आने की बात करते हुए दिखाई देने के साथ ही यह भी कहने से कतई नहीं चूकते हैं कि समाजवादी पार्टी से गठबंधन करना उनकी प्राथमिकता है. लेकिन भतीजे अखिलेश यादव की ओर से कोई सही रुझान न मिलने से हताश और निराश भी दिखाई दे रहे हैं. प्रसपा अध्यक्ष ने कहा कि उनकी पार्टी आनेवाले यूपी विधानसभा चुनाव में किसी न किसी राष्ट्रीय पार्टी से गठबंधन जरूर करेगी. प्रसपा के साथ गठबंधन में अखिलेश यादव की दिलचस्पी नहीं होने के सवाल पर शिवपाल यादव ने कहा कि वे अपनी ओर से समाजवादी पार्टी से गठबंधन की पेशकश कर चुके हैं, लेकिन अखिलेश यादव की ओर से कोई सही रुझाान ना मिलने पर अब बड़े भाई नेता जी पर ही भरोसा है, क्योंकि नेता जी कई दफा इस बात का संकेत दे चुके हैं कि वे अखिलेश से वार्ता करके सब कुछ ठीक कर देंगे.

Tags: Etawah news, Shivpal singh yadav, UP Assembly Elections 2022

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर