• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • UP Assembly Election: शिवपाल यादव ने चुनाव पूर्व सर्वे पर उठाया सवाल, बोले- जनता को किया जा रहा भ्रमित

UP Assembly Election: शिवपाल यादव ने चुनाव पूर्व सर्वे पर उठाया सवाल, बोले- जनता को किया जा रहा भ्रमित

शिवपाल यादव ने यूपी चुनाव सर्वे को बताया भ्रामक

शिवपाल यादव ने यूपी चुनाव सर्वे को बताया भ्रामक

UP Political News: एक न्यूज चैनल ने सर्वे के जरिये एक बार फिर से उत्तर प्रदेश मे भारतीय जनता पार्टी की सरकार के दुबारा सत्ता में काबिज होने का दावा किया गया है. जिसको लेकर उत्तर प्रदेश की राजनीति में सरगर्मी एक बार फिर तेज हो गई है.

  • Share this:

इटावा. चुनावी सर्वे (Pre-Poll Survey) पर सवाल उठाते हुए प्रगितशील समाजवादी पार्टी लोहिया (PSP Lohia) के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Singh Yadav) ने कहा कि यूपी विधानसभा 2022 के चुनाव (UP Assembly Election 2022) को लेकर आये सर्वे जनता को भ्रमित करने वाले हैं. शिवपाल सिंह यादव इटावा मे एक घार्मिक समारोह मे भाग लेेने के बाद चुनिंदा पत्रकारो से बात कर रहे थे. उन्होने कहा कि अभी चुनाव तक बहुत सारे सर्वे आयेंगे. उन्होने कहा कि हमारी जनता से यही अपील है कि जनता इन सर्वे से भ्रमित न हो. चुनाव में निर्णय जनता को करना करना है. इस बार जनता सही निर्णय लेगी.

बताते चले कि एक न्यूज चैनल ने सर्वे के जरिये एक बार फिर से उत्तर प्रदेश मे भारतीय जनता पार्टी की सरकार के दुबारा सत्ता में काबिज होने का दावा किया गया है. जिसको लेकर उत्तर प्रदेश की राजनीति में  सरगर्मी एक बार फिर तेज हो गई है. सर्वे में भारतीय जनता पार्टी को 2022 यूपी विधानसभा चुनाव में एक बार फिर से उत्तर प्रदेश में पूर्ण बहुमत की सरकार बनते हुए दिखाया गया है, जबकि मुख्य विपक्षी समाजवादी पार्टी को एक सैकड़ा के आसपास ही सीटें मिलती हुई दिखाई दे रही है. इसी सर्वे को लेकर के समाजवादी पार्टी से लेकर के बहुजन समाज पार्टी और कांग्रेस ने प्रतिक्रिया देते हुए इसे आधारहीन बताया है.

राजनेताओं ने भी उठाया सवाल
कई राजनेताओं ने इस बात पर भी सवाल उठाया है कि पश्चिम बंगाल में भी पूर्ण बहुमत की सरकार सर्वे के आधार पर गठित होती हुई दिखाई दे रही थी, लेकिन जब नतीजा सामने आया तो भारतीय जनता पार्टी सत्ता से कोसों दूर थी. बसपा सुप्रीमो मायावती ने तो चुनावी सर्वे पर सवाल उठाते हुए कहा कि इस सर्वे का कतई कोई औचित्य नहीं बनता है. यह सर्वे भारतीय जनता पार्टी को हर हाल में प्रमोट कर रहे हैं. इसलिए इस पर कोई भी भरोसा नहीं किया जा सकता है. समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव बेशक चुनावी सर्वे पर सवाल न उठा रहे हों. लेकिन वह यह कहने से चूक रहे हैं कि भारतीय जनता पार्टी झूठ का कारोबार करने में माहिर है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज