अपना शहर चुनें

States

इस गांव के मुस्लिमों ने लौटाई 17.5 लाख की सरकारी मदद, अपने पैसे से बनवाए टॉयलेट

बिजनौर के मुस्लिमों ने सरकार से टॉयलेट बनाने को मिले सत्रह लाख छप्पन हजार रुपये वापस कर दिए. रमजान के महीने में अमीर ग्रामीण गरीब लोगों के टॉयलेट खुद बनवा रहे है.

  • Share this:
बिजनौर के मुस्लिमों ने सरकार से टॉयलेट बनाने को मिले सत्रह लाख छप्पन हजार रुपये वापस कर दिए. रमजान के महीने में अमीर ग्रामीण गरीब लोगों के टॉयलेट खुद बनवा रहे है.

यूपी के बिजनौर के हल्दौर ब्लॉक के मुबारकपुर कलां गांव के मुस्लिम समुदाय के लोगों ने रमजान के महीने की वजह से गांव में शौचालयों के निर्माण के लिए बिजनौर प्रशासन द्वारा दिए गए 17 लाख 56 हजार रुपये वापस कर दिए. मुस्लिम समाज के लोगों ने सामुहिक निणर्य लेते हुए जकात और आपसी चंदे के पैसों से गांव के जिस घर में टॉयलेट नहीं थे वहां टॉयलेट बनाना तय किया. जिनमें से 650 घरों में से 146 घरों में शौचालय बना भी दिए गए हैं.

ढाई हजार आवादी के गांव मुबारकपुर कलां के प्रधान और स्थानीय ग्रामीणों के इस नेक काम की तारीफ भी दूर-दूर तक हो रही है. इतना ही नहीं साथ ही कई गरीब लोगों के घर तक बनाने का काम बिना किसी सरकारी मदद के कराया जा रहा है.



पूर्व प्रधान कलीमुद्दीन ने बताया कि गांव के सारे फैसले ग्रामीण मीटिंग करके खुद लेते है. इस निणर्य से बिजनौर के प्रशासनिक अधिकारी भी खुश हैं. डीएम जगत राज त्रिपाठी ने गांव के मुस्लिम समाज की तारीफ करते हुए ग्राम पचांयत कमेटी को सम्मानित करने की बात कही. डीएम ने कहा कि जिला प्रशासन की ओर से गांव के दूसरे विकास कार्यों में गांव की भरपूर मदद की जाएगी.
बता दें, अगस्त 2018 तक बिजनौर जिले को ओ.डी.एफ जिला घोषित करने का लक्ष्य है. बिजनौर के 2600 गावों में से अभी बिजनौर के 50 फीसदी से अधिक गांव ओडीएफ हो चुके हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज