लाइव टीवी

वर्दी में सपा की टोपी पहन कर बोला सिपाही, भाजपा सरकार को बर्खास्त करो
Etawah News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: June 16, 2019, 9:07 AM IST
वर्दी में सपा की टोपी पहन कर बोला सिपाही, भाजपा सरकार को बर्खास्त करो
वर्दी में सपा की टोपी पहन कर बोला सिपाही, भाजपा सरकार को बर्खास्त करो.

इटावा में पीएसी का एक जवान मुनेश यादव वर्दी में सपा की टोपी पहनकर कलेक्ट्रेट पहुंच गया और भाजपा की प्रदेश सरकार को बर्खास्त करने की मांग कर डाली. डीजीपी ने उसे अनुशासनहीनता के कारण बर्खास्त कर दिया है.

  • Share this:
इटावा में पीएसी का एक जवान मुनेश यादव वर्दी में सपा की टोपी पहनकर कलेक्ट्रेट पहुंच गया और भाजपा की प्रदेश सरकार को बर्खास्त करने की मांग कर दी. भाजपा सरकार को बर्खास्त करने की मांग उसे भारी पड़ गई, क्योंकि डीजीपी ने उसे अनुशासनहीनता के कारण बर्खास्त कर दिया है. जिला स्तर पर अभी तक किसी अधिकारी ने इसकी पुष्टि नहीं की है.

डीएम को मामले का इल्‍म नहीं
डीएम जेबी सिंह ने बताया कि पीएसी जवान के बारे में उन्‍होंने भी सुना है. उन्होंने बताया कि कुछ मीडियाकर्मियों से पता चला कि पीएसी जवान कलेक्ट्रेट में सपा की टोपी लगाए घूम रहा है, लेकिन वह जवान मुझसे नहीं मिला. कलक्ट्रेट परिसर में उसके घूमने की जानकारी मीडियाकर्मियों ने मुझे भी दी थी.

इटावा का रहने वाला है जवान

दरअसल, नोएडा पीएसी में तैनात सिपाही मुनेश यादव इटावा का रहने वाला है. शुक्रवार को वह वर्दी पहनकर सपा की लोहिया वाहिनी की लाल टोपी लगाकर कलक्ट्रेट पहुंच गया था. मुनेश यादव ने प्रदेश में कानून-व्यवस्था ध्वस्त होने का आरोप लगाकर प्रदेश की भाजपा सरकार को बर्खास्त करने की मांग की थी. उसने कहा था कि प्रदेश सरकार की बर्खास्तगी की मांग को लेकर वह राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन डीएम को देने आए हैं.

सपा की टोपी लगाकर डीएम को सरकार को बर्खास्त करने का ज्ञापन देने की खूब चर्चा हो रही है. शनिवार को यह बात भी सामने आई थी कि डीजीपी ने सिपाही को अनुशासनहीनता के आरोप में बर्खास्त कर दिया है. सिपाही की बर्खास्तगी की इटावा जिलास्तर पर किसी भी अधिकारी ने पुष्टि नहीं की है.

ये भी पढ़ें: पति ने मांगे शराब के लिए पैसे, पत्नी ने मना किया तो खुद को लगा ली आग

पीने का पानी नहीं तो 3 बेटियों के साथ पिता ने मांगी इच्छा मृत्यु, PM को लिखा पत्र

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इटावा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 16, 2019, 8:54 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर