लाइव टीवी

जो लोग एक्‍सीडेंटली हिंदू थे वे भी अब गोत्र-जनेऊ बताने लगे हैं: CM योगी

News18 Uttar Pradesh
Updated: December 16, 2018, 2:27 PM IST

सीएम योगी ने विपक्ष पर हमला करते हुए कहा कि जो लोग कहते थे कि हम एक्सीडेंटली हिन्‍दू हैं, उन लोगों को भी एहसास हो रहा है कि नहीं हम भी सनातनी धर्मावलंबी हिन्‍दू हैं.

  • Share this:
यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को अयोध्या के डॉ. राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के नवीन परिसर में दो दिवसीय समरसता कुंभ का शुभारंभ किया. इस मौके पर सीएम योगी ने कहा कि आज देश की राजनीति में हावी होने के लिए लोग अपना गोत्र व जनेऊ भी दिखाने लगे हैं. सीएम ने कहा कि भारत की परंपरा में समरसता का संगम है. कुंभ में मानव कल्याण की बात होती है. उन्होंने लखनऊ में चौथा कुंभ करवाने का वादा किया.

सीएम योगी ने विपक्ष पर हमला करते हुए कहा कि जो लोग कहते थे कि हम एक्सीडेंटली हिन्‍दू हैं, उन लोगों को भी एहसास हो रहा है कि नहीं हम भी सनातनी धर्मावलंबी हिन्‍दू हैं. कुम्‍भ का आयोजन किसी जाति, धर्म या संप्रदाय को लेकर नहीं होता है, इसका आयोजन सबके लिए होता है.

समरसता कुंभ में पहुंचे साधु-संतों को संबोधित करते हुए योगी ने कहा दुनिया के एक कोने में बैठकर कुछ लोग विदेश की झूठन खाकर भारत की संस्कृति और परंपरा को तोड़ने और कोसने का काम करते हैं. बता दें कि समरसता कुंभ में देश के कोने-कोने से साधु-संत पहुंचे हैं.

मर्यादा पुरुषोत्‍तम भगवान श्री राम के राम राज्‍य का आधार ही समता है. सीएम योगी ने कहा कि भारत के महान वैज्ञानिक जगदीश चंद्र बसु के प्रयोग को मैं देख रहा था, उसमें कहा गया कि हम सबमें जीव का अस्तित्व है, उन्होंने दुनिया में सबसे पहले ये कहा कि पेड़ पौधे में जीवन होता है. ये हमारी परंपरा है.

ये भी पढ़ें:

कानपुर: बेखौफ बदमाशों ने खुलेआम लहराया पिस्टल, वीडियो वायरल

पाकिस्तानी नागरिक को अवार्ड देने के नाम पर AMU में शुरू हुआ विवाद
Loading...

बुलंदशहर हिंसा के बाद अब UP पुलिस लोगों को दिला रही है 'गोरक्षा' की कसम

71 देशों के राजनयिक पहुंचे प्रयागराज, मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने किया स्वागत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए फैजाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 15, 2018, 2:19 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...