CM योगी के बयान पर इकबाल अंसारी का पलटवार, कहा-सुप्रीम कोर्ट जो चाहेगा वही होगा

अंसारी का कहना है कि अयोध्या मसला सुप्रीम कोर्ट में है. दोनों पक्षकार चाहते हैं कि कोर्ट निर्णय जल्दी दे. चुनाव आ रहा तो सभी पार्टी चाह रही हैं कि मन्दिर वे बनाये लेकिन मसला सुप्रीम कोर्ट में है. कोर्ट जो चाहे वही होगा.

News18 Uttar Pradesh
Updated: January 27, 2019, 6:38 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: January 27, 2019, 6:38 PM IST
अयोध्या में बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी ने सीएम योगी आदित्यनाथ सहित सपा, बसपा, कांग्रेस पर तंज किया है. अंसारी का कहना है कि अयोध्या मसला सुप्रीम कोर्ट में है. दोनों पक्षकार चाहते हैं कि कोर्ट निर्णय जल्दी दे. चुनाव आ रहा तो सभी पार्टी चाह रही हैं कि मन्दिर वे बनाये लेकिन मसला सुप्रीम कोर्ट में है. कोर्ट जो चाहे वही होगा. जिसके पास सबूत होगा फैसला उसी के हक में होगा. दोनों पक्षकार जिन्दा हैं. फैसला जिसके पक्ष में होगा, निर्माण वही करेगा.

गौरतलब है कि सीएम योगी ने टीवी में दिये अपने इंटरव्यू मे कहा था कि कोर्ट आदेश दे, तो वे एक दिन में मन्दिर का निर्माण करा देंगे. वहीं श्री रामलला के मुख्य पुजारी आचार्य सतेन्द्र दास ने सीएम योगी के बयान पर पलट वार किया है. उन्होंने कहा कि 2019 के चुनाव को देखते हुए ऐसे बयान दिये जा रहे हैं.





उन्होंने कहा कि प्रदेश के चुनाव के समय योगी आदित्यनाथ ने सत्ता में आने पर पहली वरीयता मन्दिर होगी ऐसा वादा किया था. योगी ने कोर्ट का जिक्र ही नहीं किया था. अब ऐसी भाषा बोल रहे हैं, जो राम मन्दिर के हित मे नहीं है. पीएम नरेंद्र मोदी व सीएम योगी की भाषा मे अन्तर है. ऐसी भाषा राम भक्तों को गुमराह करने वाली है. (रिपोर्ट-निमिष गोस्वामी)

ये भी पढ़ें: अयोध्या मसले पर बोले इकबाल अंसारी, मुसलमानों को कोर्ट का ही फैसला होगा मंजूर

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...