निर्मोही अखाड़े का दावा, VHP और राम जन्मभूमि न्यास मंदिर मामले में पक्षकार नहीं
Faizabad News in Hindi

निर्मोही अखाड़े ने विश्व हिंदू परिषद (विहिप) और राम जन्मभूमि न्यास पर राम मंदिर मामले में लोगों को लड़ाने और राजनीति करने का आरोप लगाया.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
अयोध्या विवाद में केंद्र की सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर गैर विवादित 67 एकड़ भूमि को वापस मांगने के बाद अयोध्या के संत दो फाड़ नजर आ रहे हैं. जहां एक ओर निर्मोही अखाड़ा ने केंद्र सरकार से राम भक्त होने का दावा करते हुए सहयोग की मांग की है. वहीं, श्री रामलला के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास ने रामलला की भूमि को उन्हें ही प्रदान करने की मांग की है, जबकि निर्मोही अखाड़े ने विश्व हिंदू परिषद (विहिप) और राम जन्मभूमि न्यास पर लोगों को लड़ाने और राजनीति करने का आरोप लगाया.

निर्मोही अखाड़े के महंत दिनेन्द्र दास का कहना है कि विश्व हिंदू परिषद और राम जन्म भूमि न्यास किसी भी रूप में राम मंदिर मामले में पक्षकार नहीं हैं. सिर्फ दो ही प्रमुख पक्षकार हैं एक सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड और दूसरा निर्मोही अखाड़ा. गौरतलब है कि राम जन्म भूमि बनाम राम जन्म भूमि न्यास का मुकदमा फैजाबाद कोर्ट में लंबित है.

ऐसे में निर्मोही अखाड़ा विवाद को हल करने के लिए सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड को जन्म स्थान से दूर विद्या कुंड में मस्जिद बनाने के लिए जमीन देने के लिए तैयार है. साथ ही निर्मोही अखाड़ा की मांग है कि रामलला के मंदिर के लिए जो अधिग्रहित जमीन और अंदर की जमीन है उसे केंद्र सरकार निर्मोही अखाड़े को सौंप दे.



केंद्र सरकार राम मंदिर के लिए निर्मोही अखाड़ा का सहयोग करे, क्योंकि राम मंदिर के लिए निर्मोही अखाड़ा ने ही शुरू से लड़ाई लड़ी है और राम मंदिर पर निर्मोही अखाड़ा का ही मात्र स्वामित्व होना चाहिए. वहीं श्री रामलला के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास का कहना है कि जन्म स्थान भगवान श्रीराम का है इसलिए स्वामित्व भगवान श्री राम का ही होना चाहिए. वहां पर विश्व हिंदू परिषद का और राम जन्मभूमि न्यास का स्वामित्व नहीं होना चाहिए. यह जरूर है कि निर्मोही अखाड़ा शुरू से राम चबूतरे पर पूजा अर्चना करता रहा है.



रिपोर्ट – निमिष गोस्वामी

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading