अयोध्या: 5 रुपए देकर बच्चों से टॉयलेट साफ कराती थी प्रिंसिपल, शिकायत हुई तो स्कूल से निकाला

अभिभावकों को शक हुआ, जब बच्चे पांच-पांच रुपये लेकर घर पहुंचे. बच्चों से पूछताछ की गई कि तब बच्चों ने इस बात का खुलासा किया.

KB Shukla | News18 Uttarakhand
Updated: July 18, 2019, 7:11 PM IST
अयोध्या: 5 रुपए देकर बच्चों से टॉयलेट साफ कराती थी प्रिंसिपल, शिकायत हुई तो स्कूल से निकाला
प्रिंसिपल कराती थी बच्चों से टॉयलेट साफ (प्रतीकात्मक फोटो)
KB Shukla | News18 Uttarakhand
Updated: July 18, 2019, 7:11 PM IST
यूपी के अयोध्या में एक प्राइमरी स्कूल में बच्चों से टॉयलेट साफ करवाने का मामला सामने आया है. बच्चों ने बताया कि इस काम के लिए प्रिंसिपल उन्हें मजदूरी के तौर पर पांच रूपए देती हैं. बच्चों ने यह बात जब घर पर बताई तो मामला मीडिया में आ गया. एक अभिभावक जब शिकायत करने स्कूल पहुंचा तो नाराज होकर प्रिंसिपल ने उनके तीनों बच्चों का स्कूल से नाम काट दिया.

इस प्राइमरी स्कूल मो मिला है मॉडल स्कूल का दर्जा

मामला अयोध्या जनपद के सोहावल शिक्षा क्षेत्र के पिलखावा प्राइमरी स्कूल का है. इस स्कूल को मॉडल स्कूल की भी संज्ञा दी गई है. इस मॉडल स्कूल में स्वच्छता के नाम पर बच्चों से टॉयलेट साफ करवाने का आरोप लगा है. अभिभावक राम कुमार विश्वकर्मा ने आरोप लगाया कि उनके तीनों बच्चों समेत स्कूल के कई बच्चों से पांच-पांच रुपए देकर स्कूल का टॉयलेट साफ करवाया जाता है.

अभिभावक को उस समय शक हुआ, जब बच्चे पांच-पांच रुपये लेकर घर पहुंचे. बच्चों से पूछताछ की गई कि तुम्हारे पास यह 5 रुपये कहां से आए? तब बच्चों ने इस बात का खुलासा किया कि स्कूल के प्रिंसिपल टॉयलेट साफ करवाने के बाद मजदूरी के रूप में पांच-पांच रुपए बच्चों को देते हैं. इसकी शिकायत करने अभिभावक राम कुमार विश्वकर्मा स्कूल पहुंचे और उन्होंने कहा कि वह अपने बच्चे को स्कूल में पढ़ने के लिए भेजते हैं न कि टॉयलेट साफ करवाने के लिए. स्कूल की साफ-सफाई झाड़ू लगाना तो ठीक है लेकिन टॉयलेट साफ करवाना उचित नहीं है.

शिकायत के बाद प्रिंसिपल ने स्कूल से बच्चों का नाम काटा

इस शिकायत के बाद प्रिंसिपल नाराज होकर उनके तीनों बच्चे जो दो कक्षा 5 में पढ़ते हैं और एक कक्षा 3 में पढ़ता है तीनों बच्चों का नाम काट कर स्कूल से भगा दिया. यह आलम है अयोध्या के प्राइमरी स्कूल का. जब प्रदेश सरकार सरकारी स्कूलों में बच्चों को पहुंचाने के लिए स्कूल चलो अभियान चला रही है तो ऐसे में स्कूल के अध्यापक प्रदेश सरकार के मंसूबों पर पानी फेर रहे हैं और स्वच्छता के नाम पर बच्चों से टॉयलेट साफ करवा रहे हैं.

ये भी पढ़ें: 
Loading...

दर्द में तड़पती रही युवती, डॉक्टर ने नहीं किया इलाज

पुलिसवालों के शवों को सब्जी वाले टेम्पो से ले गए अस्पताल

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए फैजाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 18, 2019, 6:06 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...