UP: योगी सरकार की सख्ती जारी, अब मर्डर के इस आरोपी के घर पर भी चला बुल्डोजर

अयोध्या में एक ग्राम प्रधान के घर को जिला प्रशासन ने जेसीबी से ढाह दिया.
अयोध्या में एक ग्राम प्रधान के घर को जिला प्रशासन ने जेसीबी से ढाह दिया.

उत्तर प्रदेश (UP) में कानून व्यवस्था (Law and Order) के लिए चुनौती बने अपराधियों पर योगी सरकार (Yogi Government) की कार्रवाई लगातार जारी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 27, 2020, 8:01 PM IST
  • Share this:
फैजाबाद. उत्तर प्रदेश (UP) में कानून व्यवस्था (Law and Order) के लिए चुनौती बने अपराधियों पर योगी सरकार (Yogi Government) की कार्रवाई लगातार जारी है. इसी कड़ी में मंगलवार को अयोध्या (Ayodhya) जनपद के थाना हैदरगंज क्षेत्र में अपहरण के बाद युवक की हत्या (Murder) के मामले में जिला प्रशासन ने आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की है. इस घटना के मुख्य आरोपी ग्राम प्रधान संजय वर्मा के घर को जिला प्रशासन ने मंगलवार को बुल्डोजर से गिरा दिया गया. स्थानीय प्रशासन का कहना है कि कोई भी व्यक्ति कानून से ऊपर नहीं है चाहे वह ग्राम प्रधान ही क्यों न हो.

हत्या के आरोपी ग्राम प्रधान के घर पर चाल बुलडोजर
हत्यारोपी ग्राम प्रधान का घर ग्राम समाज की जमीन पर बना है, जिसको लेकर राजस्व टीम ने पैमाइश करने के बाद जिला प्रशासन को रिपोर्ट सौंपी थी. इसके बाद पुलिस की मौजूदगी में आरोपी ग्राम प्रधान का घर गिरा दिया गया. प्रशासन घर गिराने से पहले आरोपी के सारे सामान को बाहर निकाल दिया.

Chief Minister Yogi Adityanath, Yogi Government, Law and Order, uttar pradesh news, UP news, bulldozer at gram pradhan house, faizabad, ayodhya, Murder, did deepak kumar, प्रशासन का बुल्डोजर, जेसीबी मशीन से गिराई गई मकान, उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था, योगी सरकार, ग्राम प्रधान संजय वर्मा, हैदरगंज, अपहरण के बाद युवक की हत्या, yogi adityanath government Strict action against accused of murder house bulldozer destroy nodrssप्रशासन की मौजूदगी में ग्राम प्रधान के घर को गिराया गया. (फाइल फोटो)
प्रशासन की मौजूदगी में ग्राम प्रधान के घर को गिराया गया. (फाइल फोटो)

9 अक्टूबर को एक युवक की कर दी हत्या


बता दें कि थाना हैदरगंज क्षेत्र के कटौना गांव निवासी अभिषेक वर्मा 9 अक्टूबर की सुबह सेना में भर्ती की तैयारी के लिए दौड़ लगाने निकला था, लेकिन इस बीच 3 लोगों ने उसका अपहरण कर लिया. एक हफ्ते बाद उसका शव गोमती गंगा नदी के संगम स्थल पर बनारस में मिला था. इस घटना के बाद पुलिस ने मुठभेड़ में दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था. बाद में तीन अपराधी और गिरफ्तार किए गए. पांचों हत्यारोपी इस समय जेल में है.

ये भी पढ़ें: UP-उत्तराखंड की राज्यसभा सीटों के लिए BJP ने जारी की उम्मीदवारों की सूची, कई बड़े चेहरों को दिया मौका



प्रशासन ने यह कारण बताया
जिला प्रशासन ने हत्या आरोपी ग्राम प्रधान संजय वर्मा के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करते हुए मंगलवार को ग्राम समाज की जमीन पर बने हुए उनके घर को जेसीबी मशीन से ढाह दिया है. इस दौरान पुलिस टीम के साथ राजस्व की टीम भी मौजूद रही. डीआईजी एसएसपी दीपक कुमार ने बताया, '9 अक्टूबर को सेना की भर्ती की तैयारी के लिए दौड़ लगाने निकले युवक अभिषेक वर्मा का 3 लोगों ने अपहरण कर लिया था. जिसके बाद उसका शव गोमती गंगा संगम स्थल पर बनारस जिले में मिला था. जहां पर उसका पोस्टमार्टम कराकर वहीं पर उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया था. हत्या के आरोपी का घर ग्राम समाज की जमीन पर था. उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई करते हुए राजस्व की टीम ने गिरा दिया. सरकार की मंशा है कि कोई भी अपराधी प्रदेश में कानून व्यवस्था अपने हाथ में न ले वरना सख्त कार्रवाई की जाएगी.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज