296 किसानों का 38 लाख रुपए का कर्ज दोबारा माफ, रिकवरी की तैयारी

कृषि अधिकारी ने बताया कि जांच में 296 किसान ऐसे पाए गए हैं. जिनको पहले चलाई गई योजना के तहत सत्यापन के बाद कर्ज माफ कर दिया गया था. उसके बाद शासन स्तर से एनपीए समाधान योजना लागू कर दी गई थी.

News18 Uttar Pradesh
Updated: December 21, 2018, 11:06 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: December 21, 2018, 11:06 PM IST
फर्रुखाबाद में किसानों की कर्ज माफी में प्रशासन की घोर लापरवाही सामने आई है. एनपीए योजना के अंतर्गत किसानों का कर्ज माफ करने के बाद करीब 296 किसानों का एनपीए समाधान योजना के अंतर्गत दोबारा 38 लाख रुपये का ऋण माफ कर दिया गया है. अब मामला उजागर होने के बाद अधिकारी किसानों से पैसा वसूलने की तैयारी में जुट गए हैं.

कृषि अधिकारी ने बताया कि जांच में 296 किसान ऐसे पाए गए हैं. जिनको पहले चलाई गई योजना के तहत सत्यापन के बाद कर्ज माफ कर दिया गया था. उसके बाद शासन स्तर से एनपीए समाधान योजना लागू कर दी गई थी. इस योजना का सत्यापन बाद में हुआ. इसी के चलते फिर कुछ खातों में ऐसे कर्ज माफ हो गया. जिनको पहले एक लाख तक की धनराशि नॉन एनपीए योजना में कर्ज माफ हो गई थी.

इसके बाद जांच में पाया गया कि एनपीए समाधान योजना के तहत कुछ धनराशि एक ही आधार पर एक ही किसान को ज्यादा टांसफर हो गई है. जांच में पता चला कि ऐसे किसानों की संख्या 296 है. जिनका दोबारा कर्ज माफ किया गया है. इसी के तहत 296 किसानों को 38 लाख बैंकों को वापस करनी होगी. हालांकि शासन की योजना के आधार पर किसानों का एक लाख तक का कर्ज माफ कर दिया गया है. (रिपोर्ट-सूर्या बाजपेई)

ये भी पढ़ें:

छात्रा को जिंदा जलाने का मामला: डिप्टी सीएम ने 5 लाख की मदद और सख्त कार्रवाई का दिया भरोसा

गीजर में धमाके से ढह गया दो मंजिला मकान, महिला घायल

CM योगी का गाजियाबाद दौरा, शहर को मिलेगा 325 करोड़ की सौगात

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए फर्रुखाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 21, 2018, 11:06 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...