फर्रुखाबाद: पंचायत चुनाव में 200 रुपए में फर्जी कोरोना रिपोर्ट देने का वीडियो वायरल, स्वास्थ्य कर्मी बर्खास्त

फर्जी कोरोना रिपोर्ट के लिए CHC कर्मी ने लिए 200 रुपए

फर्जी कोरोना रिपोर्ट के लिए CHC कर्मी ने लिए 200 रुपए

Farrukhabad News: वायरल वीडियो में नवाबगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर तैनात ब्लॉक कम्यूनिटी प्रोसेस मैनेजर विजय पाल एंटीजन रिपोर्ट के लिए साफ तौर पर 200 रुपए मांगते सुने जा रहे हैं.

  • Share this:

फर्रुखाबाद. उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद (Farrukhabad) जनपद में  पंचायत चुनाव के दौरान कोरोना की फर्जी एंटीजन रिपोर्ट (Fake Corona Report) 200 रुपये में देने का सनसनीखेज मामला सामने आया है. नवाबगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का एक वीडियो इंटरनेट पर वायरल हो रहा है. इस वीडियो में नवाबगंज ब्लॉक की सीएचसी पर तैनात बीसीपीएम कोरोना टेस्ट की निगेटिव रिपोर्ट देने के लिए 200 रुपए मांगते दिख रहे हैं. वीडियो का संज्ञान लेते हुए जिलाधिकारी मानवेंद्र सिंह ने आरोपी कर्मी को बर्खास्त कर दिया है.

सोशल मीडिया पर जो वीडियो वायरल हुआ है, उसमें आप देख सकते हैं कि नवाबगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के ब्लॉक कम्यूनिटी प्रोसेस मैनेजर विजय पाल एक शख्स से एंटीजन रिपोर्ट के लिए 200 रुपए मांग रहे हैं. बताया गया है कि उनके सामने बैठा शख्स आशा कार्यकर्ता का पति है. रुपए मांगने की बात पर जब उस शख्स ने हैरानी जताई, और कहा कि क्या उसे भी पैसे देने होंगे? तो विजय पाल ने कहा कि 'रुपये तो सबसे लेंगे. सही काम के कोई पैसे नहीं, गलत काम के तो पैसे देने पड़ेंगे. ऊपर भी रुपए देने पड़ते हैं.' इसके बाद उस शख्स ने पीएम मोदी और सीएम योगी का भी नाम लिया, लेकिन विजय पाल ने कहा, 'किट है नहीं, रिपोर्ट देनी है तो पैसे तो देने ही पड़ेंगे.'


बर्खास्तगी के साथ FIR के आदेश
सोशल मीडिया पर इस वीडियो के वायरल होने के बाद फर्रुखाबाद के बीसीपीएम विजय पाल ने कहा कि पंचायत चुनाव के वोटों की गिनती से एक दिन पहले उससे एक परिचित युवक ने बगैर जांच के ही कोरोना निगेटिव रिपोर्ट देने की बात कही थी. इधर, इस मामले में डीएम मानवेंद्र सिंह ने बताया कि एंटीजन किट जांच फ्री है. डीएम के आदेश पर आरोपी विजय पाल की सेवा समाप्त कर दी गई है. उसके खिलाफ FIR दर्ज करने के निर्देश दिए गए हैं. डीएम के निर्देश पर ही इस मामले पर संज्ञान न लेने के लिए एमओआईसी नवाबगंज को शोकॉज भी किया गया है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज