फर्रुखाबाद-शिकोहाबाद पैसेंजर ट्रेन में यात्रियों से मारपीट-लूटपाट, आठ घायल

फर्रुखाबाद-शिकोहाबाद पैसेंजर ट्रेन में दबंग लड़कों ने एक परिवार के सदस्यों के साथ जमकर मारपीट की. उनके पास से जेवर रुपये लूटकर फरार हो गए.

  • Share this:
फर्रुखाबाद-शिकोहाबाद पैसेंजर ट्रेन में दबंग लड़कों ने एक परिवार के सदस्यों के साथ जमकर मारपीट की. उनके पास से जेवर रुपये लूटकर फरार हो गए. मारपीट में परिवार के सभी लोग घायल हो गए. घायलों को इलाज के लिए लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया. परिजनों का आरोप है कि उनके साथ लूटपाट और महिलाओं के साथ छेड़खानी हुई है.



मिली जानकारी के मुताबिक, मामला मैनपुरी जीआरपी के क्षेत्र का है. बुधवार शाम फर्रुखाबाद एक एक परिवार के दस लोग मैनपुरी के कस्बा भोगांव में एक शादी में शामिल होकर वापस फर्रुखाबाद जाने के लिए भोगांव रेलवे स्टेशन पर पैसेंजर ट्रेन की बोगी में सवार हुए. जब पैसेंजर ट्रेन पखना स्टेशन से आगे बढ़ी तभी यहां से कुछ युवक ट्रेन में चढ़ आए. इन युवकों ने महिलाओं के साथ छेड़खानी शुरू कर दी. इसका विरोध करने पर विवाद बढ़ गया.



पीड़ित परिवार के मुताबिक, युवकों ने फोन करके अपने एक दर्जन साथियों को बुला लिया. इन लोगों ने महिलाओं समेत बोगी में सवार एक परिवार के दस लोगों से मारपीट की. हमलावरों ने इन लोगों से नगदी और जेवर लूट लिए. हमलावर नीमकरोरी स्टेशन के पास ट्रेन की चेन पुलिंग करके भाग गए. इसके बाद ट्रेन जब फर्रुखाबाद जंक्शन पर आकर रुकी तो जीआरपी को घटना की जानकारी दी. पीड़ित परिवार का आरोप है कि जब उन्होंने 100 नंबर पर फोन किया तो किसी ने रिसीव नहीं किया.





फर्रुखाबाद जीआरपी के दरोगा राजकुमार शर्मा ने बताया कि भोगांव से एक परिवार पैसेंजर ट्रेन में चढ़ा. इसी ट्रेन में यहां से कुछ लड़के भी सवार हुए. किसी लड़के की महिला से कोहनी बगैरहा लग गई. इस बात को लेकर विवाद हो गया. जब ट्रेन चलने लगी तो लड़कों ने अपने गांव नगला मोती में फोन करके अपने साथियों को बुला लिया. जब लड़के आए तो परिवार के लोनों ने ट्रेन का दरवाजा नहीं खोला. इसपर लड़कों ने ट्रेन की खिड़की का शीशा तोड़ दिया और अंदर घुस आए. पीड़ितों ने अनुसार, लड़कों ने इनके साथ मारपीट और लूटपाट की. इस मामले में शिकायत दर्ज कर ली गई है. हम मामले की जांच कर रहे हैं. इस घटना में आठ लोग घायल हुए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज