लाइव टीवी

किसी की मां ने दूध नहीं पिलाया जो हमारा टिकट काट दे: BJP सांसद साक्षी महाराज

SURYA BAJPAI | News18 Uttar Pradesh
Updated: August 26, 2019, 1:22 PM IST
किसी की मां ने दूध नहीं पिलाया जो हमारा टिकट काट दे: BJP सांसद साक्षी महाराज
बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने फर्रुखाबाद में एक बार फिर विवादित बयान दिया है.

बीजेपी सांसद साक्षी महाराज (BJP MP Sakshi Maharaj) फर्रुखाबाद में एक सभा को संबोधित करते हुए विवादित बयान दिया है. उन्‍होंने आर्टिकल 370 (Article 370) पर भी अपना पक्ष रखा है.

  • Share this:
उन्नाव से बीजेपी सांसद साक्षी महाराज (BJP MP Sakshi Maharaj) ने एक बार फिर से विवादित बयान देकर सियासी माहौल गर्मा दिया है. रविवार को महारानी अवंतीबाई सम्मेलन में शामिल होने फर्रुखाबाद पहुंचे बीजेपी सांसद ने कहा कि कुछ लोगों ने लोकसभा चुनाव में उनका टिकट कटवाने की कोशिश की थी और वो लोग समझ रहे थे कि मेरा टिकट कट जाएगा, लेकिन मैंने कहा कि किसी की मां ने दूध नहीं पिलाया कि कोई मेरा टिकट काट दे. बीजेपी सांसद ने कहा कि जब उनका टिकट नहीं कटा तो तो उनके ही कुछ लोगों ने उन्‍हें हराने का प्रयास किया था, लेकिन जनता ने उन्‍हें फिर से सांसद बनाकर दिल्ली भेजा.

'हमारे धैर्य की परीक्षा न ली जाए'

सम्मेलन को संबोधित करते हुए साक्षी महाराज ने कहा कि उनके धैर्य की परीक्षा न ली जाए. वर्ष 1998 के चुनाव की याद दिलाते हुए उन्होंने कहा, 'जब मैं यहां से चुनाव लड़ा था तो नारा लगा था 'लाल किले पर कमल निशान, अबकी जीतेंगे सलमान'. यह नारा गली-गली में गूंजा था. लेकिन, आपकी (जनता) बदौलत टिकट मिला और चुनाव जीता भी.' साक्षी महाराज ने अयोध्या कांड का जिक्र करते हुए कहा कि स्वाभिमान के लिए ही तत्कालीन मुख्यमंत्री कल्याण सिंह ने कुर्सी छोड़ी थी.



'मुस्लिमों ने किया आर्टिकल 370 हटाने का स्वागत'

बीजेपी सांसद ने कहा कि आज समाज में कुछ दर्द हैं, जिन्हें दूर करने की जरूरत हैं. साक्षी महाराज ने इस मौके पर कहा कि बीजेपी ही एक ऐसी सरकार है जो शहीदों के सपनों को पूरा कर रही है. बकौल बीजेपी सांसद, आर्टिकल 370 हटाने के बाद लगा कि देश पूरी तौर पर आजाद हो गया है. उन्‍होंने कहा, 'फारुख अब्दुल्ला कह रहे थे कि किसी की ताकत नहीं है जो इसे (आर्टिकल 370) हटा दे. कश्मीर में 370 हटने के बाद हिन्‍दुस्‍तान में कहीं पर पत्ता भी नहीं हिला. मुसलमान खुद अनुच्‍छेद 370, 35ए और तीन तलाक से परेशान थे, इसीलिए मुस्लिमों ने भी इसका स्वागत किया है.'

ये भी पढ़ें:
Loading...

मायावती ने बीजेपी का समर्थन कर फिर चौंकाया, कहीं ये वजह तो नहीं!

इसलिए 6 महीने में भी पुलवामा शहीदों के परिवार तक नहीं पहुंचे 75 लाख रुपये

जेल में बंद पति के लिए नया कुर्ता-पायजामा न लाने पर पत्नी को दिया तीन तलाक

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए फर्रुखाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 26, 2019, 11:59 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...