होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /फतेहपुर: रिटायर्ड रेलकर्मी का धर्म परिवर्तन कराने वाले मनोज त्रिवेदी को मिली जान से मारने की धमकी

फतेहपुर: रिटायर्ड रेलकर्मी का धर्म परिवर्तन कराने वाले मनोज त्रिवेदी को मिली जान से मारने की धमकी

Fatehpur: रिटायर्ड रेलकर्मी को हिन्दू धर्म में वापसी कराने पर हिन्दू महासभा के महामंत्री को मिली जान से मारने की धमकी

Fatehpur: रिटायर्ड रेलकर्मी को हिन्दू धर्म में वापसी कराने पर हिन्दू महासभा के महामंत्री को मिली जान से मारने की धमकी

Life Threat to Hindu Mahasabha Leader: मामले में सीओ सिटी वीरसिंह ने बताया कि अखिल भारतीय हिन्दू महासभा के प्रांतीय महा ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

फतेहपुर में 22 जुलाई 2022 को अब्दुल जमील ने किया था धर्म परिवर्तन
मनोज त्रिवेदी की शिकायत पर सदर कोतवाली पुलिस जांच कर रही है

फतेहपुर. यूपी के फतेहपुर जिले में अखिल भारतीय हिन्दू महासभा के प्रांतीय महामंत्री मनोज त्रिवेदी को एक धमकी भरा पत्र मिला है. पोस्टमैन से मिले इस डाक पत्र में हिंदूवादी नेता पर मुसलमानों को बरगलाने और दीन इस्लाम के खिलाफ काम करने के आरोप में हत्या की धमकी दी गई है. पत्र मिलने के बाद से हिंदूवादी नेता का पूरा परिवार दहशत में है. हिंदूवादी नेता की शिकायत पर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है. मामला सदर कोतवाली इलाके का है.

बता दें कि धमकी भरे इस पत्र में लिखा है कि ‘सुन मनोज त्रिवेदी अब तेरी उल्टी गिनती शुरू हो गई है. अभी तक तू कौम का विरोधी था. अब तू हमारे कौम के सीधे-साधे लोगों को बेवकूफ बनाकर हमसे छीन रहा है. जो तू कारनामा कर रहा है यह हमारे दीन इस्लाम के खिलाफ है. तेरे इस कारनामे की सज़ा सिर्फ मौत है. अब इसका खामियाजा भुगतने के लिए तू तैयार रहना काफ़िर.’ पत्र के अंत मे लिखा है मौत का नाम राना खान.

पुलिस ने कही जांच के बाद कार्रवाई की बात
वहीं इस मामले में सीओ सिटी वीरसिंह ने बताया कि अखिल भारतीय हिन्दू महासभा के प्रांतीय महामंत्री मनोज त्रिवेदी की शिकायत पर सदर कोतवाली पुलिस जांच कर रही है. इस पत्र को राना खान, 48 मसवानी के पते से भेजा गया है. शुरुआती जांच में नाम व पता फर्जी प्रतीत हो रहा है. विस्तृत जांच के बाद जल्द ही केस दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जाएगी.

22 जुलाई को अब्दुल ने अपनाया था हिन्दू धर्म
बता दें कि फतेहपुर में 22 जुलाई 2022 को अखिल भारतीय हिन्दू महासभा के प्रांतीय महामंत्री मनोज त्रिवेदी के देख रेख में शहर के हनुमान मंदिर में रिटायर्ड रेलवे कर्मी अब्दुल जमील ने धर्म परिवर्तन कर हिंदू धर्म अपना लिया था. आचार्य पंडित रामलला मिश्रा ने शुद्ध हवन यज्ञ के साथ अब्दुल जमील को सनातन धर्म में शामिल कराया था. इसके साथ ही उन्होंने अपना नाम अब्दुल जमील से बदलकर श्रवण कुमार रख लिया था. उस वक्त अब्दुल जमील ने अपने बयान में बताया था कि वह काफी दिनों से हिंदू धर्म अपनाने की कोशिश कर रहा था. हालांकि इस वजह से उन्हें काफी विरोध का सामना करना पड़ा था. उन्होंने यह भी बताया था कि वह स्वेच्छा और अंतर्मन से हिंदू धर्म को स्वीकार कर रहें है.

कौन है अब्दुल जमील
धर्म परिवर्तन करने वाले 68 वर्षीय अब्दुल जमील हाथरस जिले के साईदा बाग़ का रहने वाला है. वर्षों पहले नौकरी के सिलसिले में फतेहपुर आया था, जहां उसकी शादी भी शहर के देवीगंज मोहल्ले में हो गई थी. उसके बाद उसने रेलवे में मुख्य आरक्षण पर्यवेक्षक के पद पर 20 साल की नौकरी फतेहपुर जिले में किया। उसके बाद उसका ट्रांसफर शिकोहाबाद हो गया, जहां 18 साल की नौकरी के बाद रिटायर्ड हो गया. अब्दुल की तीन बेटियां व एक लड़का है. उसकी पत्नी अपनी बेटियों के साथ लखनऊ में रहती है. अब्दुल के धर्म परिवर्तन से जोड़कर अब हिंदूवादी नेता को धमकी भरा पत्र मिला है. जिसमे उन्हें जान से मारने की धमकी दी गई है.

Tags: Fatehpur News, UP latest news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें