भाजपा विधायक ने एसडीओ को पीटा, विरोध में फतेहपुर जिले की विद्युत आपूर्ति ठप

एसडीओ का आरोप है कि विधायक ने उनके साथ मारपीट और अभद्रता की है, विधायक के खिलाफ एफआईआर कराने एसडीओ थाने पहुंचे तो वहां उनकी कोई सुनवाई नहीं हुई


Updated: May 27, 2018, 5:21 PM IST

Updated: May 27, 2018, 5:21 PM IST
फतेहपुर जिले में विद्युत विभाग में तैनात एसडीओ अविनाश अग्रहरि ने बीजेपी के सदर विधायक विक्रम सिंह पर मंत्रियों के सामने मारने-पीटने का गंभीर आरोप लगाया है. पीड़ित एसडीओ की माने तो शनिवार को सदर विधायक के यहां से फोन करके उसे उनके आवास पर बुलाया गया और बिजली नहीं आने की वजह पूछी गई. एसडीओ इस बारे में बता ही रहे थे कि सदर विधायक उसके साथ मारपीट और गाली-गलौज करने लगे.

एसडीओ का आरोप है कि विधायक ने उनके साथ मारपीट और अभद्रता की है. विधायक के खिलाफ एफआईआर कराने की मांग को लेकर एसडीओ थाने पहुंचे तो वहां उनकी कोई सुनवाई नहीं हुई. इसी से नाराज होकर रविवार को जिले भर के विद्युत विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों ने हाईडिल कॉलोनी में धरना-प्रदर्शन शुरू कर दिया. कर्मचारियों ने चेतावनी दी है कि अगर विधायक के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं होती है तो उनका धरना जारी रहेगा.

विद्युत विभाग ने रविवार को सुबह नौ बजे से पूरे जिले की विद्युत आपूर्ति को ठप कर रखा है जिसके चलते जनपद के 27 लाख  लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. रमजान के समय रोजा रह रहे मुस्लिम समुदाय के लोगों को परेशानी हो रही है. वही इस मामले में सदर विधायक विक्रम सिंह ने बताया कि एसडीओ द्वारा मारपीट का जो आरोप लगाया गया है वह निराधार है.

विधायक ने बताया कि आवास में मंत्रियों के साथ बैठक होनी थी जिसके लिए इन्हें बुलाया गया था. विद्युत आपूर्ति ठीक न होने के कारण उन्हें डांटा गया. ये पूरी तरह से भ्रष्टाचार में लिप्त हैं, इनकी शासन से बर्खास्तगी की मांग करेंगे. इनके द्वारा पूरे जिले की विद्युत आपूर्ति बाधित की गई है.

सदर विधायक विक्रम सिंह ने कहा कि अपनी मांग मनवाने के लिए जिले की लाइट बंद कर जनता को परेशान करने का बिजलीकर्मियों को कोई अधिकार नहीं है. इसके लिए जिला प्रशासन के साथ बैठक कर कार्रवाई की जाएगी क्योंकि रमजान का महीना चल रहा है और भीषण गर्मी पड़ रही है. सत्ताधारी पार्टी के विधायक का मामला होने के कारण पुलिस ने इस बारे में कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर