लाइव टीवी

COVID-19: लॉकडाउन के बावजूद मदरसे का संचालन, बच्चों की जिंदगी से खिलवाड़ करने वालों पर FIR दर्ज
Fatehpur News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: March 25, 2020, 10:57 PM IST
COVID-19: लॉकडाउन के बावजूद मदरसे का संचालन, बच्चों की जिंदगी से खिलवाड़ करने वालों पर FIR दर्ज
मदरसे में जांच के लिए पहुंचे प्रशासनिक अधिकारी

मदरसा (Madrasa) खुला होने की सूचना के बाद जांच के लिए पहुंचे जिले के प्रशासनिक अधिकारी भी यह देखकर हैरान रह गए कि मदरसे में 60 से ज्यादा बच्चों को एक साथ बैठाकर दीनी-तालीम जी रही थी. फिलहाल पुलिस (Police) ने तीन शिक्षकों के खिलाफ महामारी एक्ट के तहत FIR दर्ज कर ली है....

  • Share this:
फतेहपुर. वैश्विक महामारी (Global pandemic) कोरोना वायरस (coronavirus) के संक्रमण से बचाव के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने पूरे देश में 21 दिन का लॉकडाउन (Lockdown) घोषित किया है लेकिन संकट के इस दौर में भी कुछ लोग अपने जीवन के साथ ही दूसरों की जिंदगी से भी खिलवाड़ करने से बाज नहीं आ रहे हैं. मामला फतेहपुर (Fatehpur) जिले का है जहां लॉकडाउन के बावजूद एक मदरसे में दीनी-तालीम दी जा रही थी जबकि सभी स्कूल, कॉलेज, शिक्षण संस्थान पहले ही बंद कराये जा चुके हैं.

60 से ज्यादा बच्चों को दी जा रही थी दीनी-तालीम !
मदरसा खुला होने की सूचना के बाद जांच के लिए पहुंचे जिले के प्रशासनिक अधिकारी भी यह देखकर हैरान रह गए कि मदरसे में 60 से ज्यादा बच्चों को एक साथ बैठाकर उन्हें दीनी-तालीम जी रही थी. जिसके बाद मुकदमा दर्ज किया गया. बता दें कि जिले के बिंदकी कोतवाली क्षेत्र के बजरिया मोहल्ले में एक मदरसे में तीन शिक्षकों की मौजूदगी में 60 से अधिक बच्चों को पढ़ाया जा रहा था. पुलिस ने इन तीन लोगों के खिलाफ महामारी एक्ट के अंतर्गत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. गौरतलब है कि बिंदकी कस्बे के बजरिया मोहल्ले में स्थिति मस्जिद में ही मदरसे का संचालन कराया जाता है.

कोरोना वायरस (COVID-19) के खतरे के मद्देनजर लॉकडाउन घोषित किये जाने के बावजूद मदरसा संचालकों ने मदरसे में छुट्टी करना जरूरी नहीं समझा और आज 60 से ज्यादा बच्चों को एक साथ बैठाकर उन्हें शिक्षा दी जा रही थी. अपने जीवन के साथ ही मासूम बच्चों के जीवन से खिलवाड़ कर रहे तीन मदरसा शिक्षकों खुसबुद्दीन, सरफराज और मुस्तकीम के खिलाफ महामारी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है. इस मामले में जिले के अपर पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार का कहना है कि मासूम बच्चों के साथ खिलवाड़ करने वाले और सरकारी आदेशों की अवहेलना करने वाले तीनों शिक्षकों के खिलाफ एफआईआर (FIR) दर्ज कर ली गई है. इनके खिलाफ महामारी एक्ट के तहत सख्त कार्यवाही की जाएगी.



ये भी पढ़ें-COVID-19: खतरे के मद्देनजर जेलों से रिहा किए जाएंगे कैदी, सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर बन रही लिस्ट...

 

COVID-19: लखनऊ की अवध विहार कालोनी के 700 फ्लैट्स में 2500 आइसोलेशन वार्ड बनाने की तैयारी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए फतेहपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 25, 2020, 10:57 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर