लाइव टीवी

दहेज में नहीं मिली भैंस तो पत्नी को जिन्दा जलाया, हालत नाजुक

News18 Uttar Pradesh
Updated: January 7, 2020, 8:52 PM IST
दहेज में नहीं मिली भैंस तो पत्नी को जिन्दा जलाया, हालत नाजुक
फतेहपुर में दहेज़ लोभियों ने युवती को जिंदा जलाया (प्रतीकात्मक फोटो)

जिंदगी और मौत के बीच झूल रही पीड़िता के परिजनों का आरोप है कि दहेज (Dowry) में भैंस न मिलने से नाराज पति दीपू सिंह और उसके परिजनों ने नव-विवाहिता को मिट्टी का तेल डालकर आग के हवाले कर दिया डॉक्टरों के मुताबिक वो 95 प्रतिशत जल चुकी है....

  • Share this:
फतेहपुर. जनपद में दहेज लोभियों द्वारा दहेज (Dowry) में भैंस (Buffalo) व फ्रिज न मिलने के चलते नव-विवाहिता को जिंदा जलाने का सनसनी खेज मामला सामने आया है. इस जघन्य वारदात में 95 फीसदी तक जल चुकी 22 साल की युवती नीतू को इलाज के लिए जिला अस्पताल से कानपुर हैलट हॉस्पिटल (Kanpur Halat Hospital) रेफर किया गया है. जहां उसकी हालत नाजुक (critical) बनी हुई है.

दहेज़ की मांग को लेकर मारपीट करता था पति
जिंदगी और मौत के बीच झूल रही पीड़िता के परिजनों का आरोप है कि दहेज में भैंस न मिलने से नाराज पति दीपू सिंह और उसके परिजनों ने नव-विवाहिता को मिट्टी का तेल डालकर आग के हवाले कर दिया. बांदा जिले के चिल्ला थाना क्षेत्र के अतरहा गांव की रहने वाली 22 वर्षीय नीतू सिंह का विवाह फतेहपुर जिले के ललौली थाना क्षेत्र के अकीला बाद गांव के रहने वाले दीपू सिंह के साथ डेढ़ साल पहले हुआ था. नीतू के परिजनों का आरोप है कि शादी के बाद से ही दीपू और उसके परिवार वाले भैंस और फ्रिज की मांग को लेकर उसे प्रताड़ित किया करते थे.

पांच महीने पहले ही इसी बात को लेकर नीतू के साथ जमकर मारपीट की गई थी जिसकी जानकारी मिलने पर नीतू का पिता उसे मायके ले आए थे. जहां कुछ दिन पहले उसने एक बेटे को जन्म दिया. बेटा पैदा होने के बाद से ही नीतू अक्सर बीमार रहा करती थी. नीतू का मजदूर पिता मजदूरी से मिलने वाले पैसे से उसका इलाज करवा रहे थे.

पीड़िता के पिता के मुताबिक 6 दिन पहले ही दीपू उनके घर आया और पत्नी नीतू को ठीक से रखने का वादा करके उसे अपने साथ ले गया. लेकिन ससुराल पहुंचने के बाद भैंस और फ्रिज की मांग को लेकर नीतू के साथ फिर मारपीट की जाने लगी और सोमवार को उसे जिंदा जला दिया. नीतू के परिजनों का आरोप है कि पूरे परिवार की मौजूदगी में दीपू ने अपनी पत्नी और दुधमुंहे बच्चे की मां नीतू को आग के हवाले कर दिया कानपुर के हैलट अस्पताल में भर्ती नीतू जिंदगी और मौत के बीच संघर्ष कर रही है.

क्षेत्राधिकारी नगर कपिल देव मिश्रा का कहना है कि पीड़िता को बेहतर इलाज के लिए पुलिस अभिरक्षा में कानपुर भेज दिया गया है और इस मामले में तहरीर मिलते ही आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर कड़ी कार्रवाई की जाएगी फिलहाल पुलिस अपने स्तर से मामले की जांच कर रही है.

ये भी पढ़ें- लखनऊ हिंसा: आरोपी पूर्व IPS दारापुरी व सदफ जफर की रिहाई पर प्रियंका गांधी का ट्वीट, कहा- झूठ कभी नहीं जीत सकता

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए फतेहपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 7, 2020, 7:56 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर