Home /News /uttar-pradesh /

फतेहपुर: पॉलिटेक्निक की छात्रा ने किया सुसाइड, रिश्‍ते के मामा समेत 3 युवकों पर ब्‍लैकमेल करने का आरोप

फतेहपुर: पॉलिटेक्निक की छात्रा ने किया सुसाइड, रिश्‍ते के मामा समेत 3 युवकों पर ब्‍लैकमेल करने का आरोप

छात्रा के पिता ने सुसाइड नोट को फर्जी बताया है.

छात्रा के पिता ने सुसाइड नोट को फर्जी बताया है.

फतेहपुर (Fatehpur) के नासेपीर कस्बा में बीती रात पॉलिटेक्निक की एक छात्रा (Polytechnic Student) ने फांसी लगाकर सुसाइड (Suicide) कर लिया. छात्रा के पिता ने रिश्‍ते के मामा और उसके दो दोस्‍तों पर बेटी को ब्‍लैकमेल करने का आरोप लगाया है.

अधिक पढ़ें ...
    फतेहपुर. उत्तर प्रदेश के फतेहपुर (Fatehpur) में बीती रात पॉलिटेक्निक की एक छात्रा (Polytechnic Student) ने फांसी लगाकर सुसाइड (Suicide) कर लिया. इस मामले में छात्रा के पिता ने दूर के रिश्‍ते में मामा समेत तीन युवकों पर अश्लील संदेश और फोटो भेजकर बेटी को ब्लैकमेल करने का गंभीर आरोप लगाया है. आरोप है कि छात्रा मनीषा को तीनों युवकों ने ब्लैकमेल कर इतना प्रताड़ित किया कि वह सुसाइड करने पर मजबूर हो गई. जबकि पुलिस को शव के पास से एक सुसाइड नोट भी मिला है. सुसाइड नोट में लिखा है कि मेरे मरने का कारण मैं खुद हूं, अपनी जिंदगी से हार कर मैं आत्महत्या कर रहीं हूं, इसमें किसी का कोई कसूर नहीं है, न मेरे घर वालों का और न मेरे मामा का, हम अपनी बीमारी से हार कर आत्महत्या कर रहे हैं. वहीं छात्रा के पिता ने सुसाइड नोट को फर्जी बताते हुए कहा कि सुसाइड नोट में लिखे शब्द मेरी बेटी की हैंडराइटिंग में नहीं हैं. मृतक छात्रा के पिता ने मामले में आरोपी मामा विमल, दोस्त अभिषेक और मकान मालिक राम नरेश के खिलाफ कोतवाली में तहरीर दी है, लेकिन पुलिस (Police) ने अभी तक केस नहीं दर्ज किया है. वहीं घटना के बाबत मीडिया के सवालों पर पुलिस अधिकारी कोई जवाब नहीं दे रहे हैं. यह घटना सदर कोतवाली के नासेपीर कस्बा की है.

    नासेपीर कस्बे में एक किराए पर रहती थी छात्रा
    बिंदकी कोतवाली के सीतापुर गांव के रहने वाले शिव सिंह की 20 वर्षीय बेटी मनीषा पॉलिटेक्निक की छात्रा है और वह सदर कोतवाली इलाके के नासेपीर कस्बे में एक किराये का कमरा लेकर पढ़ाई कर रही थी. पिता शिव सिंह ने बताया,' गुरुवार की रात उन्हें सूचना मिली कि उनकी बेटी मनीषा ने फांसी लगाकर सुसाइड कर लिया है. जब तक परिवार वाले मौके पर पहुंचे तब तक पुलिस शव को कब्जे में लेकर मॉर्चरी भेज चुकी थी. पिता का कहना है कि दूर के रिश्ते में मामा विमल ने ही उसके बेटी को कमरा दिलाया था और अक्सर वह अपने दोस्त अभिषेक के साथ उसके कमरे पर आता जाता था. जिस मकान में उसकी बेटी रह रही थी, वह मकान मालिक राम नरेश भी विमल का दोस्त था. आरोप है कि गुरुवार को दोपहर में ही उसकी बेटी ने फांसी लगाकर खुदकुशी है, लेकिन मामा विमल ने पुलिस को सूचना पहले दी और परिवार वालों को रात करीब आठ बजे घटना के बारे में जानकारी दी.

    छात्रा के पिता ने लगाए ये आरोप
    मृतका के पिता ने पुलिस को दिए तहरीर में आरोप लगाया है कि जो उसके साले का साला विमल यानी रिश्‍ते में मृतका का मामा लगता था. वह अपने दोस्त अभिषेक के साथ उसकी बेटी से अवैध सम्बन्ध बनाने के लिए लगातार टॉर्चर किया करता था. यहां तक कि उसके मोबाइल में अश्लील संदेश और फोटो भेजकर ब्लैकमेल किया करता था.उसे इतना प्रताड़ित किया गया कि वह आत्महत्या के लिए मजबूर हो गई.इसके अलावा छात्रा के पिता शिव सिंह ने बताया कि पुलिस ने जो उन्हें सुसाइड नोट दिखाया है वह फर्जी है. सुसाइड नोट में लिखे शब्द मेरी बेटी के हैंडराइटिंग में नहीं है. पिता ने मामले में आरोपी मामा विमल, दोस्त अभिषेक और मकान मालिक राम नरेश के खिलाफ सदर कोतवाली में तहरीर दी है, लेकिन पुलिस ने अभी तक उनका केस नही दर्ज किया है.

    पुलिस ने कही ये बात
    कोतवाली प्रभारी रवींद्र श्रीवात्सव ने बताया कि जब उन्हें सूचना मिली तो मौका-ए वारदात पर पहुंचे. देखा कि दरवाजा अंदर से बंद था. पुलिस ने दरवाजा तोड़कर देखा कि छात्रा का शव फांसी के फंदे पर लटक रहा था. शव के पास से एक सुसाइड नोट भी मिला है. सुसाइड नोट में लिखा था कि मेरे मरने का कारण मैं खुद हूं, अपनी जिंदगी से हार कर मैं आत्महत्या कर रहीं हूं, इसमें किसी का कोई कसूर नहीं है, न मेरे घर वालों का न ही मेरे मामा, हम अपनी बीमारी से हार कर आत्महत्या कर रहे हैं. (रिपोर्ट- दारा सिंह)

    Tags: Fatehpur News, Suicide, UP news, UP police

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर