• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • Fatehpur News: केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति बोलीं- नुरुल हुदा स्कूल आतंकवादी गतिविधियों में शामिल

Fatehpur News: केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति बोलीं- नुरुल हुदा स्कूल आतंकवादी गतिविधियों में शामिल

नुरुल हुदा स्कूल आतंकवादी गतिविधियों में शामिल

नुरुल हुदा स्कूल आतंकवादी गतिविधियों में शामिल

फतेहपुर सांसद व केंद्रीय ग्रामीण विकास राज्यमंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने तत्कालीन डीएम (DM) व एसपी (SP) पर सवाल उठाते हुए कहा कि मैंने दोनों से बातचीत कर इस बारे में जानकारी दी थी. इस विद्यालय पर निगाह रखें.

  • Share this:
    फतेहपुर. उत्‍तर प्रदेश के फतेहपुर (Fatehpur) के नुरुल हुदा इंग्लिश मीडियम स्कूल में हिन्दू बच्चों को उर्दू-अरबी की तालीम दिए जाने की खबर के बाद जिले की सांसद व केंद्रीय ग्रामीण विकास राज्यमंत्री साध्वी निरंजन ज्योति शनिवार की शाम अचानक धर्मांतरण का खुलासा करने वाली स्कूल टीचर कल्पना सिंह के घर पहुंची और उनसे बातचीत कर स्कूल में हिन्दू बच्चों को कलमा पढ़ाए जाने की पूरी हकीकत जानी. स्कूल की पूर्व टीचर कल्पना सिंह ने साध्वी निरंजन ज्योति को बताया कि सीबीएससी बोर्ड से मान्यता प्राप्त शहर के नुरुल हुदा इंग्लिश मीडियम स्कूल में पिछले कई सालों से अवैध धर्मांतरण के आरोपी उमर गौतम का आना जाना था. वह जब भी मौलानाओं के साथ स्कूल आता था तो प्रबंधक को स्कूल के बच्चों को इस्लामिक तालीम दिए जाने के लिए जोर दिया करता था.

    मेरी मौजूदगी में हिंदू बच्चों को उर्दू-अरबी की तालीम दी जाती थी. जिसका मैंने विरोध किया तो स्कूल प्रबंधक ने मुझे भी इस्लाम को ताकतवर बताते हुए धर्मांतरण करने के लिए कहा गया था. जब मैं विरोध करना लगातार जारी रखी तो मुझे स्कूल से निकाल दिया गया. नुरुल हुदा इंग्लिश मीडियम स्कूल में हिन्दू बच्चों को इस्लामिक तालीम दिए जाने के आरोप पर साध्वी निरंजन ज्योति ने बताया कि इस स्कूल में धर्मांतरण कराने का काम बहुत दिनों से चल रहा था.

    अवैध धर्मांतरण मामला: यूपी में अब तक सामने आए 50 मामले, 78 गिरफ्तार, सबसे ज्यादा मेरठ में केस

    भारत का संविधान कहता है कि विद्यालयों में किसी भी मजहबी परम्परा को पढ़ाने का अधिकार नहीं है, जिस तरह इस स्कूल में हिन्दू बच्चों को उर्दू-अरबी और कलमा का पाठ पढ़ाया जा रहा है, और टीचरों को टॉर्चर करके निकाल दिया गया और वेतन भी नहीं दिया गया है. इससे साफ जाहिर हो रहा है कि इस स्कूल के माध्यम से एक धर्म विशेष की शिक्षा का प्रचार-प्रसार किया जा रहा है. यह स्कूल के माध्यम से आतंकवादी गतिविधियों में विद्यालय संलिप्त पाया गया है. उन्होंने कहा कि अवैध धर्मांतरण मामले में उमर गौतम जो पकड़ा गया है वह विद्यालय में भाषण देने आता था. भाषण देने का मतलब उसका सम्बंध इस स्कूल से है.

    उलेमात फैलाने वाले विद्यालय बंद होने चाहिए
    केंद्रीय मंत्री ने तत्कालीन डीएम व एसपी पर सवाल उठाते हुए कहा कि मैंने दोनों से बातचीत कर इस बारे में जानकारी दी थी. इस विद्यालय पर निगाह रखें. मुझे संदेह हो रहा था की जो बच्चे घूमते फिरते हैं उनकी भाषा नहीं समझ में आती थी, क्योंकि कोई केरल का होता है तो कोई तमिलनाडु का, मैंने खुद देखा था. क्योंकि सफ़ेद पठानी कपड़ा पहने हुए घूम रहे हैं उन्हें यहां की भाषा भी नहीं आती थी. वह लोग यहां कैसे आ गए यह बहुत गंभीर विषय है. जिसे सरकार ने संज्ञान लिया है, फिर भी मैं भारत सरकार के संज्ञान में लाऊंगी, इस तरह मजहबी उलेमात फैलाने वाले विद्यालय को बंद होना चाहिए. (रिपोर्ट- धारा सिंह)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज