लाइव टीवी

CAA Protest: सपा प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम फिरोजाबाद पुलिस की हिरासत में
Firozabad News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: December 28, 2019, 4:10 PM IST
CAA Protest: सपा प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम फिरोजाबाद पुलिस की हिरासत में
समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पुलिस हिरासत में

सपा (samajwadi party) प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम (Naresh Uttam)) ने कहा कि प्रदेश सरकार (UP Government) जबरन हम लोगों को रोक रही है और पीड़ित परिवार से नहीं मिलने दे रही है.

  • Share this:
फिरोजाबाद. नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ हुए प्रदर्शनों के दौरान भड़की हिंसा (violence) में 20 दिसंबर को फिरोजाबाद जनपद (Firozabad district) में मारे गए लोगों के परिजनों से मिलने आ रहे सपा प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम और पार्टी के अन्य नेताओं को फिरोजाबाद पुलिस ने हिरासत में ले लिया. हिरासत में लिए जाने से पहले पुलिस द्वारा रोके जाने से नाराज सपा प्रदेश अध्यक्ष सपाइयों के साथ एक्सप्रेस-वे पर धरने पर बैठ गए. जिसके बाद पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया. हिरासत में लिए गए सपा नेताओं को सिरसागंज गेस्ट हाउस ले जाया गया. इस दौरान सपा नेताओं ने जमकर सरकार विरोधी नारे भी लगाए.

प्रदेश सरकार पर तानाशाही का आरोप
सपा के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम और सपा के प्रतिनिधि मंडल में शामिल ब्रजेश कठेरिया, जावेद अली शनिवार को लखनऊ एक्सप्रेस-वे से फिरोजाबाद आ रहे थे, इसकी जानकारी जब पुलिस को हुई तो एसपी ग्रामीण के नेतृत्व में सपा नेताओं को नसीरपुर कट पर रोक लिया गया और उन्हें धारा 144 का हवाला देते हुए उन्हें आगे बढ़ने से रोक दिया गया. सपा नेताओं के साथ कई स्थानीय नेता भी मौजूद थे, जो खुद को रोके जाने से नाराज होकर एक्सप्रेस-वे पर ही धरने पर बैठ गए और प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी करने लगे. सपा नेताओं ने प्रदेश सरकार पर तानाशाही का रवैया अपनाने का भी आरोप लगाया.

सपा प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम ने कहा, "प्रदेश सरकार जबरन हम लोगों को रोक रही है. हमें पीड़ित परिवार से नहीं मिलने दे रही है. हम केवल पीड़ित परिवार से मिलने के लिए जा रहे थे."
उनका कहना है कि सरकार और पुलिस की गुंडागर्दी से जनता परेशान है. फिरोजाबाद में जितने भी निर्दोष मारे गए वह सभी पुलिस की गोली ओर लाठी चार्ज से मारे गए हैं लेकिन पुलिस उन्हें जबरन रोक रही है. फिलहाल फिरोजाबाद पुलिस उन्हें हिरासत में लेकर सिरसागंज गेस्ट हाउस ले गई.



गौरतलब है कि 20 दिसंबर को नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ फ़िरोज़ाबाद में जमकर बवाल हुआ था, जिसमें आधा दर्जन लोगों की मौत हो गई थी. उपद्रवी भीड़ ने पुलिस चौकी समेत कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया था. इस बवाल में जिन लोगों की मौत हुई थी, उनके परिजनों से मिलने यह सपा नेता जा रहे थे. इसके पहले मेरठ पुलिस ने भी कांग्रेस लीडर राहुल गांधी व प्रियंका गांधी को पीड़ितों से मिलने मेरठ जाने से रोक दिया था.



ये भी पढ़ें- CAA Protest: कांग्रेस ने किसी को नहीं भड़काया, सरकार से नाराज लोग सड़क पर उतरे...

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए फिरोजाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 28, 2019, 3:32 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading