• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • फिरोजाबाद: स्वास्थ्य विभाग की सर्वलांस टीम ने लिए सैंपल, सामने आएगा मौतों का सही कारण

फिरोजाबाद: स्वास्थ्य विभाग की सर्वलांस टीम ने लिए सैंपल, सामने आएगा मौतों का सही कारण

फिरोजाबाद में ही मौतों की जांच स्वास्थ्य विभाग ने तेज कर दी है. (ANI)

फिरोजाबाद में ही मौतों की जांच स्वास्थ्य विभाग ने तेज कर दी है. (ANI)

firozabad Child Death:  यूपी के फिरोजाबाद (firozabad news) में हो रही मौतों की जांच के लिए स्वास्थ्य विभाग की एक टीम लखनऊ से पहुंची है. टीम सैंपल कलेक्ट कर जांच के लिए लखनऊ (Lucknow) भेजेगी.

  • Share this:

    फिरोजाबाद. उत्तर प्रदेश (UP News) के फिरोजाबाद (firozabad children death) में हो रही मौतों की के बाद अब स्वास्थ्य विभाग सक्रिय हो गया है. परीक्षण करने के लिए लखनऊ से 5 सदस्यीय टीम फिरोजाबाद पहुंची है. कहा जा रहा है कि फिरोजाबाद में फैली बीमारी डेंगू (Dengue) का एक खतरनाक रूप है. इसको हेमो रिजिक नाम दिया गया है. हेमो रिजिक से इफेक्ट होने पर बहुत जल्दी प्लेटलेट्स गिरते हैं और बुखार आता है. अब 5 सदस्यीय टीम के सभी लोग अलग-अलग स्थानों पर जाकर लोगों के ब्लड सैंपल ले रहे हैं. टीम प्रभावित इलाकों में जाकर गंदगी और जलभराव को देख रहे हैं. टीम के अनुसार उन्हें गंदगी में डेंगू, मलेरिया के मच्छर मिल रहे हैं. टीम अभी सैंपल इकट्ठा कर उनको किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज लखनऊ को भेजे जा रहे हैं.

    परीक्षण के बाद यह पता लगेगा कि आखिर फिरोजाबाद में हो रही इतनी मौतों का सही कारण क्या है? हालांकि, इस टीम की के अगुवाई करने वाले ज्वाइंट डायरेक्टर डॉक्टर अवधेश यादव कहते हैं कि उन्होंने ककरऊ की कोठी, रानी नगर, झलकारी नगर, सत्य नगर, में सैंपल जाकर देखे हैं तो यह पाया है कि डेंगू का मच्छर काफी संख्या में मिले हैं. उनका कहना है कि जब डेंगू का मच्छर कूलर खाली करने के बाद भी अगर 30ml पानी रहता है तो उसमें भी डेंगू का वायरस पनप जाता है. लेकिन इतनी ज्यादा मौत होने पर इसकी विस्तृत जानकारी परीक्षण के बाद ही कुछ कहना संभव होगा.

    अचानक कम हो रहे ब्लड प्लेटलेट्स

    स्टेट एंटोमोलॉजिस्ट डॉ. सुदेश कुमार ने बताया कि दरअसल, प्राथमिक दृष्टि में जो नजर आता है वह मच्छर के काटने से ही बच्चे बीमार हो रहे हैं. लेकिन यह मच्छर काटने के बाद बच्चों में बहुत ज्यादा बुखार हो रहा है जिससे डिहाइड्रेशन हो जा रहा है और प्लेटलेट्स अचानक बहुत गिर रही हैं, जिससे मौतों की संख्या बढ़ गई है. स्वास्थ्य विभाग के जॉइंट डायरेक्टर  डॉ. अवधेश यादव  ने कहा,’शासन के निर्देशों के अनुसार हम लखनऊ से स्टेट लेवल से यह टीम भेजी गई है. इस टीम के द्वारा यहां 31 तारीख में हम लोगों ने देखा इस जनपद में भीषण बीमारी से बच्चों में मृत्यु दर ज्यादा था. फिर हमने इन्वेस्टिगेशन प्रारंभ किया तो पता चला कि यह डेंगू की तरफ इशारा हो रहा है. मेडिकल कॉलेज केजीएमसी को हमने यहां से सैंपल भेजे हैं तो हमें पता लगा है कि डेंगू के केस ही ज्यादा निकल कर आ गए हैं. छुटपुट अन्य बीमारी के निकल कर आ रहे हैं. हमने डेंगू के गाइडलाइंस के अनुसार और यहां पूरे जनपद में मीटिंग करके जिलाधिकारी महोदय के निर्देशन में मीटिंग करके उसमें हमने एक टीम को अर्बन का काम सौंप दिया है और एक टीम को रूरल का काम दिया है. सबसे इंपोर्टेंट इफेक्टिव एक्टिविटी जो होती है उसमें यह एडिस मच्छर के काटने से यह फैलता है और यह पानी में पनपता है जो हमने घरों में जाकर पाया कि कूलर्स मौजूद है और उसकी तली में थोड़ा बहुत भी पानी है. उसमें हमें मच्छर मिले हैं.’

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज