लाइव टीवी

फिरोजाबाद बस एक्सीडेंट: 6 महीने में 5 बार चालान के बाद भी 3 राज्यों में फर्राटा भर रही थी बस
Patna News in Hindi

Arvind Sharma | News18 Uttar Pradesh
Updated: February 14, 2020, 1:28 PM IST
फिरोजाबाद बस एक्सीडेंट: 6 महीने में 5 बार चालान के बाद भी 3 राज्यों में फर्राटा भर रही थी बस
फिरोजाबाद में बस दुर्घटना के बाद कई बड़े खुलासे हो रहे हैं.

आपको बता दें कि बुधवार की देर रात (12 फरवरी) फ़िरोज़ाबाद (Firozabad) के नगला खंगर थाना क्षेत्र में लखनऊ आगरा एक्सप्रेसवे पर दर्दनाक सड़क हादसा हो गया था, जिसमें 14 लोगों की मौत हो गई थी, जबकि 25 लोग घायल हुए थे. नई दिल्ली से बिहार जा रही एक डबल डेकर बस पंचर खड़े ट्रक से टकरा गई थी.

  • Share this:
फिरोजाबाद. उत्तर प्रदेश के फ़िरोज़ाबाद (Firozabad) में बुधवार रात (12 फरवरी) हुए सड़क हादसे में चौकाने वाली जानकारी सामने आई है. ये परिवहन विभाग की लापरवाही उजागर करती है. पता चला है कि बस का चालक लगातार लापरवाही बरत रहा था और गाड़ी के कागज भी मानक के अनुरूप नहीं थे. पिछले 6 महीने में बस का 5 बार चालान हुआ और जुर्माना भी वसूला जाता रहा. यही नहीं इसके बाद भी यह बस आराम से 3 राज्यों में फर्राटा भर रही थी. परिवहन विभाग क्यों लापरवाह बना रहा फ़िरोज़ाबाद के परिवहन विभाग के अधिकारियों की नजर इस पर क्यों नहीं पड़ी? ऐसे ही कुछ सवालों के जवाब जब फ़िरोज़ाबाद के सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी से लेने की कोशिश की तो वह बिना कुछ कहे निकल गए.

आपको बता दें कि बुधवार की देर रात फ़िरोज़ाबाद के नगला खंगर थाना क्षेत्र में लखनऊ आगरा एक्सप्रेसवे पर दर्दनाक सड़क हादसा हो गया था, जिसमें 14 लोगों की मौत हो गई थी, जबकि 25 लोग घायल हुए थे. नई दिल्ली से बिहार जा रही एक डबल डेकर बस पंचर खड़े ट्रक से टकरा गई थी. मामले की जांच में पता चला है कि बस ड्राइवर गाड़ी को निर्धारित लेन की बजाय ओवरटेक करने वाली लेन पर चला रहा था. गाड़ी गोरखपुर के केसी जैन की थी, जिसका रजिस्ट्रेशन अगस्त 2019 में हुआ था. यह गाड़ी दिल्ली के रामलीला मैदान से बिहार तक चलती थी. इस गाड़ी का 6 माह में पांच बार चालान भी हो चुका है और जुर्माना भी वसूला जा चुका है.

लगातार चालान, हजारों का जुर्माना
यह चालान अलग-अलग जनपदों में हुआ है. पहला चालान परमिट न होने पर किया गया, जिसमें 18 हजार का जुर्माना वसूला गया. इसी तरह दूसरे जुर्माने में 15 हजार, तीसरे जुर्माने में 5 हजार औऱ चौथे जुर्माने में 2500 का जुर्माना वसूला गया. पांचवे चलान की जानकारी नहीं हो सकी है. बावजूद इसके यह बस फर्राटा भरती रही. फ़िरोज़ाबाद के परिवहन विभाग ने तो ऐसी गाड़ियों को कभी चेक करने की जेहमत तक नहीं उठाई. घटना के बाद फ़िरोज़ाबाद के सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी से जब इस बारे में बात करने की कोशिश की गयी तो वह बिना कुछ कहे निकल गए.



ये भी पढ़ें:

शरजील इमाम को रिमांड पर लेगी अलीगढ़ पुलिस, तिहाड़ जेल में दाखिल किया B वारंट

बाबरी मस्जिद के मलबे की मांग को लेकर अगले 10 दिन में दायर हो सकती है याचिका

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 14, 2020, 1:28 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर