‘मरने’ के बाद जिंदा हुए बुजुर्गु ने सुनाई अपनी परलोक यात्रा की कहानी

बुजुर्ग ज्ञान सिंह ने दावा किया कि उन्हें दो लोग घसीटकर ले गए थे. लेकिन जहां उन्हें ले जाना था वहां उन्हें घुसने नहीं दिया.

ETV UP/Uttarakhand
Updated: February 2, 2018, 7:30 PM IST
ETV UP/Uttarakhand
Updated: February 2, 2018, 7:30 PM IST
फिरोजाबाद में कथित रूप से मृत और फिर जिंदा हुए एक बुजुर्ग की कहानी इन दिनों चर्चा का बिषय बनी है. दूर दराज के लोग बुजुर्ग को देखने के लिए गांव आ रहे हैं. बुजुर्ग उन्हें अपनी परलोक यात्रा की कहानी सुनाकर हैरत में डाल रहे है.

मिली जानकारी के मुताबिक, जिला मुख्यालय से थोड़ी ही दूरी पर बसे गांव मुखरामपुर के निवासी ज्ञान सिंह की कहानी इन दिनों लोगों के बीच कौतूहल का विषय बनी हुई है. कहानी ज्ञान सिंह की मौत से जुड़ी है. लेकिन ज्ञान सिंह अभी जिंदा है. सांस के रोग से पीड़ित ज्ञान सिंह की दो दिन पहले कथित रूप से मौत हो गई थी. घर वाले अंतिम संस्कार की तैयारियां कर ही रहे थे कि तभी उनके शरीर में कुछ सिरहन दिखाई दी. ग्रामीण नेपाल सिंह का दावा है कि उनमें फिर से जान लौट आई.

इसके बाद बुजुर्ग ज्ञान सिंह ने दावा किया कि उन्हें दो लोग घसीटकर ले गए थे. लेकिन जहां उन्हें ले जाना था वहां उन्हें घुसने नहीं दिया. इसके बाद जब उन्होंने लौटने में आनाकानी की तो उन्हें गर्म लकड़ी से न केवल पीटा गया बल्कि उनके ऊपर खौलता पानी भी डाल दिया गया.

बुजुर्ग ज्ञान सिंह और उसके घरवालों को अब यह लगता है कि यमराज के दूत किसी और के धोखे में ज्ञान सिंह को ले गए थे. लेकिन उनका समय अभी बचा था इसलिए उन्हें लौटा दिया.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...