फिरोजाबाद: करवाचौथ से पहले महिला ने पति की हत्या के लिए दी पांच लाख की सुपारी, शव खेत में दफनाया

शव बरामद करने पहुंची पुलिस
शव बरामद करने पहुंची पुलिस

मामला फिरोजाबाद (Firozabad) के थाना नारखी क्षेत्र का है, यहां के निवासी अवधेश जादौन बरेली के थाना इज्जत नगर स्थिति सहोड़ा के इंटर कॉलेज में प्रवक्ता पद पर तैनात थे. पत्नी के अवैध संबध एक युवक से थे. जिसमें पति रोढ़ा बना था. जिसके बाद पत्नी ने प्रेमी- से मिल कर उसकी हत्या करवाकर शव को जमीन मे दफना दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 26, 2020, 2:11 PM IST
  • Share this:
फिरोजाबाद. भारतीय संस्कृति में सनातन धर्म से जुड़ी सुहागिन महिलायें अपने पति की दीर्ध आयु के लिए करवाचौथ (Karwachauth) का निर्जला व्रत रखती हैं. इस पावन त्यौहार को आने मे सिर्फ एक सप्ताह बाकी है, लेकिन फ़िरोजाबाद (Firozabad) से एक ऐसी खबर आयी है जो भारतीय नारी के लिए कलंक है. एक विवाहिता ने अपने प्यार को पाने के लिए अपनी ही मांग का सिंदूर उजाड़ दिया. प्रेमी के साथ मिलकर पति को रास्ते से हटाने के लिए पांच लाख की सुपारी देकर उसकी हत्या (Murder) करवा दी.

बरेली के कॉलेज में प्रवक्ता पद पर तैनात था मृतक

मामला फिरोजाबाद के थाना नारखी क्षेत्र का है, यहां के निवासी अवधेश जादौन बरेली के थाना इज्जत नगर स्थिति सहोड़ा के इंटर कॉलेज में प्रवक्ता पद पर तैनात थे. पत्नी के अवैध संबध एक युवक से थे. जिसमें पति रोढ़ा बना था. जिसके बाद पत्नी ने प्रेमी- से मिल कर उसकी हत्या करवाकर शव को जमीन मे दफना दिया. अवधेश 16अक्टूबर से लापता था. जिसकी गुमशुदगी बरेली के इज्जत नगर थाना क्षेत्र मे दर्ज करायी गई. जांच में नारखी पुलिस भी लगी थी. फिरोजाबाद एसओजी ने सोमवार को आरोपियो की निशानदेही पर खेत में दफ़न अवधेश का क्षति विक्षिप्त शव बरामद किया.



हत्या के लिए दी पांच लाख की सुपारी
दरअसल, प्रेमी से शादी के चक्कर में पत्नी ने एक हिस्ट्रीशीटर को उसके कत्ल की सुपारी दी थी. पांच लाख में कत्ल का सौदा किया था. इसके लिए उसने 70 हजार रुपये एडवांस दिए थे. इज्जतनगर पुलिस ने कत्ल करने वाले हिस्ट्रीशीटर को गिरफ्तार कर लिया है. उससे पूछताछ की जा रही है. उसकी निशानदेही पर फिरोजाबाद में नारखी थाना क्षेत्र में एक खेत से प्रवक्ता का शव बरामद किया गया है. उसे पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है.

फिरोजाबाद के थाना नारखी गांव खेरिया निवासी अवधेश शीशगढ़ के गांव सहोड़ा के इंटर कॉलेज में प्रवक्ता के पद पर तैंता थे. 12 अक्टूबर की शाम को अवधेश ने अपनी मां अन्नपूर्णा से फोन पर अपनी जान का खतरा बताया. इसके बाद उनका मोबाइल बंद हो गया. 13 अक्टूबर को मां अन्नपूर्णा ने बेटे अवधेश के मोबाइल पर फोन किया तो फोन बंद जा रहा था. इसके बाद उन्होंने कई बार फोन लगाने की कोशिश की लेकिन बात नहीं हो पाई. जिस पर वह 16 अक्टूबर को बरेली पहुंची. बरेली में अवधेश के कर्मचारी नगर स्थित घर पर ताला पड़ा हुआ था.

मां की तहरीर के बाद हुआ खुलासा

इसके बाद मां अन्नपूर्णा की तहरीर पर रविवार देर रात पुलिस ने अवधेश की पत्नी विनीता सिंह, ससुर रिटायर फौजी अनिल कुमार, साली ज्योति और साले प्रदीप कुमार व विनीता के आगरा के रहने वाले कथित प्रेमी दोस्त के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्जकर लिया. एसएसपी रोहित सिंह सजवान ने बताया अवधेश की तलाश में पुलिस टीम को फिरोजाबाद भेजा था. वहां पूछताछ में पुलिस ने एक हिस्ट्रीशीटर चीकू को गिरफ्तार किया है. पूछताछ में उसने हत्या करने की बात कबूल कर ली है. उसकी निशानदेही पर खेत से अवधेश का शव बरामद किया है. शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. आरोपियों की तलाश में पुलिस टीमें लगी हुई हैं.

(रिपोर्ट: देवेन्द्र चौहान)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज