सरकारी दावों की खुली पोल: लाइट गुल तो मोबाइल की रोशनी में मरीज को लगाए टांके

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 1, 2019, 5:26 PM IST
सरकारी दावों की खुली पोल: लाइट गुल तो मोबाइल की रोशनी में मरीज को लगाए टांके
मोबाइल की रोशनी में लगाए टांकें

मरीज की हालत को देखते हुए स्टाफ ने मोबाइल टॉर्च की रोशनी में घायल के घाव में टांके लगाए. लेकिन रोशनी कम होने के कारण उन्हें परेशानी आ रही थी.

  • Share this:
उत्तर प्रदेश(Uttar pradesh) की योगी सरकार(CM Yogi Adityanath) के तमाम दावों को इस एक तस्वीर ने धता बता दिया. इस तस्वीर ने सरकारी अस्पताल में स्वास्थ्य सेवाओं की पोल खोलकर रख दी. दरअसल फिरोजाबाद के शिकोहाबाद स्थित सरकारी अस्पताल में बिजली न होने पर स्टाफ मोबाइल की रोशनी में उपचार करने को मजबूर है. शनिवार को अस्पताल में ऐसा ही मामला सामने आया है.

हुआ ये कि अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में रामनिवास नगर निवासी रेखादेवी अपने पिता तोफान सिंह को गंभीर हालत में लेकर आईं. उनके माथे पर चोट लगी हुई थी. इमरजेंसी में तैनात स्टाफ से टांके लगाने के लिए कहे लेकिन लाइट न होने पर स्टाफ तैयार नहीं हुआ.

बाद में मरीज की हालत को देखते हुए स्टाफ ने मोबाइल टॉर्च की रोशनी में घायल के घाव में टांके लगाए. लेकिन रोशनी कम होने के कारण उन्हें परेशानी आ रही थी. स्टाफ ने बताया कि रात में बिजली नहीं आई, जिसकी वजह से इन्वर्टर बैठ गया है. जेनरेटर के बारे में पूछा तो बताया गया कि जेनरेटर चालू नहीं हुआ है.
 

ऐसे झूठे साबित हुए सरकारी दावे
भीषण गर्मी में स्टाफ का भी बिना बिजली के कक्ष अथवा इमरजेंसी कक्ष में बैठना मुश्किल हो रहा था. ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर अभिषेक और डॉ. एसके कर्दम दोनों इमरजेंसी के बाहर पेड़ के नीचे खड़े थे. जब डॉक्टर से पूछा तो उन्होंने बताया कि गर्मी में बिना पंखे के कक्ष में बैठा नहीं जा रहा है.

इस संबंध में एक अखबार ने सीएमओ से बात की तो उन्होंने बताया कि 15 दिन पूर्व भी एक शिकायत आई थी. तब उन्हें बताया गया था कि जेनरेटर खराब हो गया है. उन्होंने कहा कि अब नोटिस भेज कर इस मामले का जवाब मांगा जाएगा.
Loading...

ये भी पढ़ें:

नाबालिग की हत्‍या कर फोड़ीं आंखें, रेप की भी आशंका

यूपी में आज से पॉलिथीन बैन, पकड़े जाने पर 25 हजार जुर्माना

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए फिरोजाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 1, 2019, 5:26 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...