लाइव टीवी

मुलायम सिंह के समधी का आरोप- यादव अधिकारियों को परेशान कर रही है योगी सरकार

News18 Uttar Pradesh
Updated: November 16, 2019, 10:43 AM IST
मुलायम सिंह के समधी का आरोप- यादव अधिकारियों को परेशान कर रही है योगी सरकार
मुलायम सिंह यादव के समधि का आरोप है कि योगी सरकार यादव अधिकारियों को परेशान कर रही है. (फाइल फोटो)

एसपी विधायक हरिओम यादव ने कहा कि भूमि संरक्षण अधिकारी दिनेश यादव के खिलाफ गबन का फर्जी केस दर्ज कराकर उनको परेशान किया जा रहा है. हमें जांच का इंतजार है सबकुछ दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा. उन्होंने कहा कि दिनेश पर केस दर्ज कराने के पीछे किसकी साजिश है इसकी भी जांच होनी चाहिए.

  • Share this:
फिरोज़ाबाद. अपने बयानों को लेकर सुर्खियों में रहने वाले समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के विधायक (MLA) और एसपी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) के समधी हरिओम यादव (Hariom Yadav) ने योगी आदित्यनाथ सरकार पर निशाना साधा है. फिरोजाबाद (Firozabad) जनपद की सिरसागंज सीट से विधायक हरिओम यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार (UP Government) यादव जाति के अधिकारियों को जानबूझ कर परेशान कर रही है. उन्होंने कहा कि भूमि संरक्षण अधिकारी दिनेश यादव के खिलाफ गबन का फर्जी केस दर्ज कराकर उनको परेशान किया जा रहा है. हमें जांच का इंतजार है सबकुछ दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा. उन्होंने कहा कि दिनेश पर केस दर्ज कराने के पीछे किसकी साजिश है इसकी भी जांच होनी चाहिए.

दिनेश यादव SP विधायक हरिओम यादव के समधी हैं
बता दें कि भूमि संरक्षण अधिकारी दिनेश यादव एसपी विधायक हरिओम यादव के समधी हैं और उनके बेटे पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष विजय प्रताप के ससुर हैं. अपने आवास पर मीडियाकर्मियों से बात करते हुए हरिओम यादव ने कहा कि भूमि संरक्षण अधिकारी दिनेश यादव पर महज इसलिए केस दर्ज कराया गया है क्योंकि वो जाति से यादव हैं और हमारे रिश्तेदार हैं.

दर्ज किए गए FIR पर उठाए सवाल

उन्होंने एफआईआर पर भी सवाल उठाया और कहा कि खुद एफआईआर में जो तथ्य लिखे गए हैं उनसे यह साफ हो रहा है कि मामला फर्जी है. एसपी विधायक ने कहा कि रिपोर्ट में यह लिखाया गया है कि भूमि संरक्षण अधिकारी दिनेश यादव ने फिरोजाबाद और इटावा जनपद में रहते हुए गबन किया है.

अपराध फिरोजाबाद में तो FIR इटावा में क्यों
हरिओम यादव ने कहा कि गबन अगर फिरोजाबाद और इटावा में हुआ है तो फिर गोंडा में एफआईआर क्यों हुई है. फिरोजाबाद में क्यों नही हुई. उन्होंने कहा कि यह मामला एक साल पुराना है और तहरीर भी थाने पर कई दिनों तक पड़ी रही. उन्होंने कहा कि यह साजिश है इसकी भी जांच होनी चाहिए.
Loading...

ये भी पढ़ें- योगी की मंत्री स्वाति सिंह की CO को कथित धमकी, डीजीपी ने एसएसपी लखनऊ से मांगी रिपोर्ट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए फिरोजाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 16, 2019, 9:26 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...