लाइव टीवी

रैली के दौरान सपा कार्यकर्ताओं पर भड़कीं BSP सुप्रीमो मायावती, दी ये नसीहत
Firozabad News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: April 21, 2019, 5:19 PM IST
रैली के दौरान सपा कार्यकर्ताओं पर भड़कीं BSP सुप्रीमो मायावती, दी ये नसीहत
सपा पर भड़कीं मायावती (फाइल फोटो)

फिरोजाबाद में गठबंधन की रैली में बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बरस रहीं मायावती अचानक सपा कार्यकर्ताओं से नाराज़ हो गईं...

  • Share this:
बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने सपा नेता और रामगोपाल यादव के बेटे अक्षय यादव के लिए रैली में वोट मांगा. फिरोजाबाद में गठबंधन की रैली में बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बरस रहीं मायावती अचानक सपा कार्यकर्ताओं से नाराज हो गईं और उन्हें बसपा कार्यकर्ताओं से सीख लेने की नसीहत दे दी.

दरअसल हुआ यह कि जब मायावती शनिवार को जनसभा को संबोधित कर रही थीं, उसी बीच सपा समर्थक नारेबाजी करने लगे. इस पर वह थोड़ी नाराज हो गईं और बोलीं कि बीच में नारेबाजी ना करें. बसपा के कार्यकर्ताओं से सीखें. मेरे ख्याल से सपा कार्यकर्ताओं को बसपाइयों से अनुशासन सीखने की जरूरत है. उन्होंने सपा कार्यकर्ताओं से कहा, 'समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं को बसपा के कार्यकर्ताओं से कुछ सीखने की जरूरत है. आप लोग जो बीच में नारे लगा रहे हैं, आपको बसपा के लोगों से कुछ सीखना चाहिए. बसपा के लोग पार्टी और हमारी बात बहुत शांति से सुनते हैं.'

फिरोजाबाद की रैली में मायावती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी तंज कसा और कहा कि चौकीदारी की नाटकबाजी भी इस बार बीजेपी को नहीं जिता पाएगी. चाहे बीजेपी के छोटे-बड़े सभी चौकीदार इकट्ठे हो जाएं इससे कोई फर्क नहीं पड़ता. उन्होंने कहा कि इस बार नमो नमो कहने वालों की नहीं, बल्कि जय भीम जय भीम कहने वालों की सरकार बनेगी. मोदी ने देश की जनता से कोरे वादे किए हैं. अच्छे दिन का वादा कर जनता को ठगा है.

ये भी पढ़ें--Election News highlights: PM का तंज- 23 मई को खत्म हो जाएगी सपा-बसपा की फर्जी दोस्ती

अब साध्वी के बयान से फडणवीस का किनारा, कहा- करकरे के लिए ऐसा कहना बिल्कुल गलत

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए फिरोजाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 21, 2019, 7:35 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर