फिरोजाबाद: BJP नेता की हत्या के आरोप में मुख्य आरोपी समेत तीन गिरफ्तार

BJP नेता की हत्या के आरोप में तीन गिरफ्तार (file photo)
BJP नेता की हत्या के आरोप में तीन गिरफ्तार (file photo)

घटना के बाद ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त हो गया है टूण्डला आगरा मार्ग जाम कर दिया. वहीं, पुलिस (Police) के आलाधिकारियों के द्वारा दिए गए आश्वाशन के बाद करीब आठ घंटे बाद जाम खुलवा दिया गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 17, 2020, 1:44 PM IST
  • Share this:
फिरोजाबाद. उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद जनपद (Firozabad District) में बीजेपी नेता पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसाईं. इससे बीजेपी नेता डीके गुप्ता की दर्दनाक मौत हो गई. मामले में पुलिस ने तीन नामजद आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस की गिरफ्त में आए तीनों आरोपी आपस में रिश्तेदार हैं. इस हत्याकांड में शामिल एक अन्य आरोपी अभी भी फरार है. एडीजी आगरा अजय आनंद ने कहा कि पकड़ में आए मुख्य आरोपी सहित तीन लोगों से पूछताछ की जा रही है. शव पोस्टमॉर्टम के बाद उनके निवास पर भेजा गया है.

जानकारी के मुताबिक, पूरी घटना जनपद फ़िरोज़ाबाद के थाना नारखी क्षेत्र के नगला बीच कस्बे की है, जहां देर शाम करीब साढ़े आठ बजे भाजपा मंडल उपाध्यक्ष दयाशंकर गुप्ता रोज की तरह अपनी दुकान बंद कर रहे थे. तभी गांव का ही वीरेश तोमर अपने दो साथियों के साथ बाइक पर आया. इससे पहले कि दयाशंकर कुछ समझ पाते दबंगों ने भाजपा नेता दयाशंकर गुप्ता उर्फ़ डीके गुप्ता पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दीं. घटना को अंजाम देने के बाद तीनों दबंग हथियार लहराते हुए मौके से फरार हो गए. फिर आनन- फानन में दयाशंकर गुप्ता को अस्पताल ले जाया गया जहां, डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया. घटना के बाद ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त हो गया है टूण्डला आगरा मार्ग जाम कर दिया. वहीं, पुलिस के आलाधिकारियों के द्वारा दिए गए आश्वाशन के बाद करीब आठ घंटे बाद जाम खुलवा दिया गया.

घटना के पीछे प्रधानी की रंजिश 
वहीं, घटना के पीछे प्रधानी की रंजिश बताई जा रही है, जिसमें डीके गुप्ता द्वारा 2015 में प्रधानी चुनाब लढ़ा गया था. इस दरम्यान इसका अन्य विरोधी गुट से झगड़ा भी हुआ था. बताया जाता है कि दबंगों ने 2 दिन पूर्व दयाशंकर को जान से मारने की धमकी भी दी थी और आज इस घटना को अंजाम दिया गया है. वहीं, सूत्रों की माने तो इस बार भी मृतक डीके अपने गांव में प्रधानी का चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहा था. जितने की पूरी उम्मीद थी. इस लिए भी आरोपियों द्वारा मारने की आशंका जताई जा रही है.
इलाके में नाकाबंदी 



फिलहाल घटना की जानकारी मिलते ही आगरा एडीजी जॉन अजय आनंद और आईजी जॉन सतीश गणेश सहित जिले के आलाधिकारियो के साथ बीजेपी के जिला स्तर के नेता और जन प्रतिनिधि भी घटना स्थल पर पहुंच गए. वहीं, पुलिस अधिकारियों ने घटना स्थल का मौका- मुआयना किया. पुलिस ने दबंगों को पकड़ने के लिए क्षेत्र में नाकाबंदी कर दी है. फिलहाल अभी तक पुलिस आरोपियों को पकड़ने नाकाम रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज