Home /News /uttar-pradesh /

नोएडा-ग्रेटर नोएडा के लाखों Flat खरीदारों को हुआ बड़ा फायदा, रजिस्ट्री में मिली ये छूट

नोएडा-ग्रेटर नोएडा के लाखों Flat खरीदारों को हुआ बड़ा फायदा, रजिस्ट्री में मिली ये छूट

नोएडा-ग्रेटर नोएडा में फ्लैट खरीदने वालों के लिए एक बड़ी खुशखबरी है.  (सांकेतिक तस्वीर)

नोएडा-ग्रेटर नोएडा में फ्लैट खरीदने वालों के लिए एक बड़ी खुशखबरी है. (सांकेतिक तस्वीर)

फ्लैट बॉयर्स की नेफोमा (NEFOMA) के अध्यक्ष अन्नू खान का कहना है कि लाखों फ्लैट बॉयर्स (Flat Buyers) ऐसे हैं जिन्होंने कई साल पहले फ्लैट का पूरा पैसा बिल्डर (Builder) को दे दिया, लेकिन अभी तक रजिस्ट्री नहीं हुई है. लेकिन अब राहत की बात ये है कि ऐसे फ्लैट बॉयर्स के फ्लैट की रजिस्ट्री नए नियमों के मुताबिक होगी. ऐसे फ्लैट खरीदारों की संख्या नोएडा (Noida) और ग्रेटर नोएडा में लाखों है. वहीं नया फ्लैट खरीदने वालों को भी अब बड़ा फायदा होगा.

अधिक पढ़ें ...

    नोएडा. नोएडा -ग्रेटर नोएडा (Greater Noida) में फ्लैट खरीदने वालों के लिए एक बड़ी खुशखबरी है. कोर्ट से आए एक फैसले से उन्हें बड़ा फायदा हुआ है. अब उन्हें फ्लैट की रजिस्ट्री के लिए ज्यादा फीस नहीं देनी होगी. जितनी जगह में फ्लैट बना है सिर्फ उसी एरिया की फीस रजिस्ट्री के दौरान अदा करनी होगी. कोर्ट का फैसला आने के बाद नोएडा अथॉरिटी (Noida Authority) ने भी इस संबंध में एक लैटर गौतम बुद्ध नगर (Gautam Budh Nagar) प्रशासन को भेज दिया है. कोर्ट के इस फैसले से एक ओर जहां उन लाखों फ्लैट बॉयर्स को फायदा पहुंचेगा जो फ्लैट खरीद चुके हैं, लेकिन अभी तक रजिस्ट्री नहीं हुई है, वहीं फ्लैट खरीदने जा रहे बॉयर्स को भी इसका बड़ा फायदा मिलेगा.

    फ्लैट की रजिस्ट्री का अभी तक यह था नियम

    अभी तक के नियमों के मुताबिक फ्लैट की जो रजिस्ट्री हो रही थी वो सुपर एरिया के आधार पर हो रही थी. इस नियम के तहत फ्लैट की रजिस्ट्री करते वक्त फ्लैट की बालकनी, छत, सीढ़ियां और लिफ्ट का एरिया जोड़कर फ्लैट बॉयर्स से रजिस्ट्री की फीस ली जा रही थी. लेकिन अब नए नियम के मुताबिक सिर्फ कारपेट एरिया की ही रजिस्ट्री फीस ली जाएगी. ये कारपेट एरिया वो एरिया कहलाएगा जिसमे फ्लैट बना है.

    चक्रेश जैन और जोगिन्दर सिंह ने लड़ी लड़ाई

    यूपी अपार्टमेंट एक्ट 2010 और यूपी रेरा के कानून में सुपर एरिया का कोई उल्लेख नहीं है, और न ही नोएडा अथॉरिटी सुपर एरिया को सत्यापित करती है. बावजूद इसके रजिस्ट्री के दौरान सुपर एरिया के हिसाब से ही स्टांप डयूटी और फीस ली जा रही थी.

    सबसे ज्यादा देश की कानून-व्यवस्था पर छलका अल्पसंख्यकों का दर्द, जानें क्या कहते हैं आंकड़े

    इसी को लेकर दो फ्लैट खरीदार चक्रेश जैन और जोगिन्दर सिंह कोर्ट गए थे. अब इस नए नियम से जहां फ्लैट खरीदारों को रजिस्ट्री कराने में 20 से 25 फीसद की बचत होती, वहीं बिल्डर को यह बड़ा झटका लगा है.

    Tags: Greater noida news, Noida Authority, Own flat

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर