Bird Flu News: देश के चार राज्यों में पक्षियों में मिला बर्ड फ्लू, योगी सरकार हुई अलर्ट

देश केविभिन्न राज्यों में पक्षियों में फैलते बर्ड फ्लू को लेकर यूपी की योगी सरकार सतर्क हो गई है.

देश केविभिन्न राज्यों में पक्षियों में फैलते बर्ड फ्लू को लेकर यूपी की योगी सरकार सतर्क हो गई है.

भोपाल (Bhopal) स्थित राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशु रोग संस्थान (ICAR-National Institute of High Security Animal Diseases) ने बताया कि मध्य प्रदेश, राजस्थान, केरल और हिमाचल प्रदेश से मृत पक्षियों के जो सैंपल आये थे उनमें एवियन इन्फ्लूएंजा (Avian Influenza) पॉजिटिव मिला है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 4, 2021, 10:55 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. कोरोना (Corona) अभी ठीक से खत्म भी नहीं हुआ कि इंसान के सामने बर्ड फ्लू (Bird Flu) जैसी बड़ी समस्या खड़ी हो गई है. इससे भी ज्यादा परेशानी की बात यह है कि अभी तक चार राज्यों से आये पक्षियों के सैंपल में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है. भोपाल (Bhopal) स्थित राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशु रोग संस्थान (ICAR-National Institute of High Security Animal Diseases) के विश्वस्त सूत्र ने बताया कि मध्य प्रदेश, राजस्थान, केरल और हिमाचल प्रदेश से मृत पक्षियों के जो सैंपल आये थे उन सभी में एवियन इन्फ्लूएंजा (Avian Influenza) पॉजिटिव पाया गया है. उत्तराखंड से आये पक्षियों के सैंपल की जांच दोबारा की जा रही है, क्योंकि उनके सैंपल सड़ गये थे. उन्होंने यह भी बताया कि दिल्ली में इसकी रोकथाम के लिए एक कंट्रोल रूम बनाया गया है.

राजस्थान में किंगफिशर, मैगपी और कौव्वों की मौतें हुई हैं. वहीं मध्य प्रदेश में सिर्फ कौव्वे ही मरे पाये गये हैं. हिमाचल प्रदेश से प्रवासी पक्षियों के मरने की खबरें आ रही हैं, जबकि केरल से बत्तखों के मरने की खबरें आ रही हैं. यूपी से सटे दूसरे राज्यों में पक्षियों में फैले बर्ड फ्लू के चलते यहां भी सतर्कता बढ़ायी जा रही है. हालांकि अभी तक यूपी से किसी प्रकार के पक्षियों के मरने का कोई मामला सामने नहीं आया है लेकिन, हालात चिंताजनक जरूर बन गये हैं.

Youtube Video


MLC Election 2021: समाजवादी पार्टी में किसकी लगेगी लॉटरी, रेस में मुलायम परिवार के करीबी
राजस्थान, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश में न सिर्फ प्रवासी पक्षी बल्कि कौव्वे भी बर्ड फ्लू की चपेट में आये हैं. हजारों की संख्या में ऐसे पक्षी मर गये हैं. इन सभी राज्यों की सीमा यूपी से भी लगती है. ऐसे में सतर्कता बढ़ाये जाने की जरूरत है.

पशुपालन विभाग में रोग नियंत्रण के निदेशक डॉ. संतोष कुमार मलिक ने बताया कि यूपी के किसी भी जिले से अभी ऐसा कोई मामला रिपोर्ट नहीं हुआ है. हालांकि प्रवासी पक्षियों में बर्ड फ्लू मिलने के कारण चिंता जरूर है. इसीलिए इस बारे में जल्द ही एक मीटिंग बुलाई जायेगी और जरूरी दिशा-निर्देश जारी किए जायेंगे. उन्होंने कहा कि हम लगातार सैंपलिंग कराते रहते हैं और किसी भी बीमारी के लिए लगातार मॉनीटरिंग जारी रहती है.

किसानों पर फायरिंग को लेकर AAP नेता का हमला, कहा- जनरल डायर हो गए हैं CM खट्टर



इस खबर के बाद सबसे ज्यादा चिंतित वन विभाग है. इन दिनों बड़ी संख्या में प्रवासी पक्षी प्रदेश के वेटलैंड्स आते हैं. वो एक जगह से दूसरी जगह जाया भी करते हैं. ऐसे में खतरा बहुत बढ़ गया है. इसीलिए वन विभाग ने इसके लिए कमर भी कस ली है. वन विभाग के प्रमुख सुनील पांडेय ने बताया कि वैसे तो हमने 20 नवंबर को ही एवियन इन्फ्लूएंजा के लिए सतर्कता बरतने के निर्देश जारी कर दिये थे लेकिन, अब उसको शत-प्रतिशत अमल में लाने के ऑर्डर दिये गये हैं.

बर्ड फ्लू फैलने के खौफ से पोल्ट्री उद्योग भी सकते में हैं. बता दें कि प्रदेश में पोल्ट्री कारोबार खूब फल फूल रहा है. कोरोना की चोट के बाद अब इसमें गति आयी है. ऐसे में बर्ड फ्लू की आशंका से ही इस उद्योग की चूलें फिर से हिल सकती हैं. गनीमत बस इतनी है कि यूपी से कोई भी मामला अभी तक रिपोर्ट नहीं हुआ है लेकिन, इसका खतरा तो बना ही हुआ है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज