तीन साल पहले रोकी थी ट्रेन, अब विशेष कोर्ट ने पूर्व सांसद अनु टंडन को सुनाई दो साल की सजा

पूर्व सांसद के साथ ही पार्टी के कुछ पदाधिकारियों को भी सजा सुनाई गई है. (फाइल फोटो)

पूर्व सांसद के साथ ही पार्टी के कुछ पदाधिकारियों को भी सजा सुनाई गई है. (फाइल फोटो)

लखनऊ (Lucknow) की विशेष एमपी-एमएलए अदालत (MP- MLA Court) ने कांग्रेस की पूर्व सांसद अनु टंडन (Anu Tandon) तथा पार्टी के तीन अन्य पदाधिकारियों को उन्नाव (Unnao) जिले में तीन साल पहले रेल रोकने का दोषी पाया है. कोर्ट ने अन्नू टंडन और दो अन्य लोगों को दो साल की सजी सुनाई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 19, 2021, 3:41 PM IST
  • Share this:
उन्नाव. लखनऊ की विशेष एमपी-एमएलए अदालत ने कांग्रेस की पूर्व सांसद अनु टंडन तथा पार्टी के तीन अन्य पदाधिकारियों को उन्नाव जिले में तीन साल पहले एक आंदोलन के दौरान ट्रेन रोकने के मामले में बृहस्पतिवार को दोषी करार देते हुए दो साल कैद की सजा सुनाई है. न्यायाधीश पीके राय की अदालत ने 12 जून 2017 को उन्नाव रेलवे स्टेशन के पास कांग्रेस के आंदोलन के दौरान एक ट्रेन को जबरन रोकने के आरोप में दर्ज कराए गए मुकदमे में उन्नाव से पार्टी की पूर्व सांसद अनु टंडन, तत्कालीन जिला अध्यक्ष सूर्य नारायण यादव, नगर अध्यक्ष अमित शुक्ला और युवा कांग्रेस के तत्कालीन अध्यक्ष अंकित परिहार को दो-दो साल कैद और 25-25 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है.

क्या था मामला

12 जून 2017 को रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स ने इस मामले की एफ आई आर दर्ज कराई थी. एफआईआर के मुताबिक उन्नाव स्टेशन थे पूर्वी किनारे पर बने ओवर ब्रिज के पास कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने गाड़ी संख्या 18191 के इंजन पर खड़े होकर उसको रोक लिया था.भीड़ को रेलवे लाइन पर देखकर ड्राइवर ने भी ब्रेक लगा दिए थे, जिसके बाद तमाम प्रदर्शनकारी दौड़कर इंजन पर चढ़ गए और नारेबाजी करने लगे. रेलवे के लोगों ने समझा-बुझाकर इन प्रदर्शनकारियों को इंजन से उतारा था. इस पूरे घटनाक्रम के चलते हैं ट्रेन 12 मिनट लेट हो गई थी.

Youtube Video

शिवपाल ने की योगी आदित्यनाथ की तारीफ, बोले- CM ईमानदार और मेहनती लेकिन नौकरशाही है भ्रष्ट

एफआईआर के मुताबिक इस धरना प्रदर्शन की अगुवाई कांग्रेस की पूर्व सांसद अन्नू टंडन कर रही थीं. विवेचना के बाद उन्नाव आरपीएफ के सब इंस्पेक्टर मिथिलेश कुमार यादव ने अभियुक्तों के खिलाफ रेलवे एक्ट की धारा 174 ए में चार्जशीट दाखिल की थी. 2 अगस्त 2018 को अदालत ने चार्ज शीट पर संज्ञान लेते हुए मुकदमे का ट्रायल शुरू किया था.

गुरुवार को लखनऊ की एमपी एमएलए कोर्ट ने इस मामले में कांग्रेस के पूर्व सांसद अन्नू टंडन के साथ उन्नाव के तत्कालीन कांग्रेस जिला अध्यक्ष सूर्य नारायण यादव ,शहर अध्यक्ष अमित शुक्ला और युवा कांग्रेस कमेटी के प्रदेश अध्यक्ष अंकित परिहार को दोषी करार देते हुए दो-दो साल की सजा सुनाई है. कोर्ट ने दोषियों को पच्चीस पच्चीस हजार रुपए की क्षतिपूर्ति भी अदा करने का आदेश दिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज