विकास दुबे है UP का 20वां मोस्ट वांटेड, लिस्ट का सबसे बड़ा इनामी बदमाश
Lucknow News in Hindi

विकास दुबे है UP का 20वां मोस्ट वांटेड, लिस्ट का सबसे बड़ा इनामी बदमाश
यूपी के मोस्ट वांटेड की लिस्ट.

Kanpur Shootout मामले के 5 दिन बाद मोस्ट वांटेड की लिस्ट में शामिल हुआ 8 पुलिसवालों की हत्या का आरोपी गैंगस्टर विकास दुबे (Vikas Dubey), जिसके ऊपर इनाम की रकम को बढ़ाकर अब 5 लाख रुपए कर दिया गया है.

  • Share this:
नई दिल्ली. कानपुर में 8 पुलिसवालों की हत्या का आरोपी विकास दुबे (Vikas Dubey) को विकरू कांड के बाद उत्तर प्रदेश पुलिस की मोस्ट वांटेड लिस्ट में शामिल किया गया है. कानपुर शूटआउट (Kanpur shootout) के 5 दिन बाद मोस्ट वांटेड (Most Wanted) की लिस्ट में इससे पहले 19 क्रिमिनल (Crimenal) शामिल थे. उसके सिर पर 2.5 लाख रुपए का इनाम रखा गया था, जिसे बढ़ाकर अब 5 लाख रुपए कर दिया गया है. मोस्ट वांटेड लिस्ट में शामिल किसी बदमाश पर 25 तो किसी पर 40 केस हैं.

सूची में शामिल अन्य बदमाशों के ऊपर भी 50 हज़ार से लेकर 2 लाख रुपए तक के इनाम घोषित हैं. विकास दुबे (Vikas Dubey) के शामिल हो जाने के बाद अब यह संख्या 20 हो गई है. इस लिस्ट में अब सबसे बड़ी इनामी रकम का अपराधी विकास दुबे ही है. लेकिन गौर करने वाली बात यह है कि थाने के अंदर घुसकर मंत्री की हत्या का आरोप, ज़मीन के विवाद में एक प्रिंसिपल के मर्डर का आरोप. छोटे-बड़े अपराधों के करीब 70 केस और 8 पुलिसवालों की हत्या के नए मामले के बाद तक विकास दुबे का नाम इस लिस्ट में नहीं था.

ये भी पढ़ें- दो महिलाएं जो दुबे को दे रही थीं पुलिस की लोकेशन और चलवा रही थीं गोलियां



शूटआउट वाली रात 5 किमी तक साइकिल से भागा था विकास दुबे, यहां पहुंचकर ली थी बाइक!
बीते 3 जुलाई को विकास दुबे के ऊपर इनाम 25 हज़ार से बढ़ाकर 50 हज़ार रुपए कर दिया गया. फिर एक लाख और एक के बाद 2.5 लाख रुपए कर दिया गया. उस पर कई बार जेल जाने के मामले भी दर्ज हैं. बावजूद इसके पुलिस की नज़र इस बात पर नहीं गई कि विकास दुबे को यूपी के मोस्ट वांटेड अपराधी की लिस्ट में शामिल किया जाए. आरोप तो यह भी है कि विकास दुबे एके-47 लेकर घूमता है.

यह बोले थे यूपी के पूर्व डीजीपी विक्रम सिंह

यूपी पुलिस के पूर्व डीजीपी विक्रम सिंह इस बारे में न्यूज18 हिंदी को बताया कि अगर अधिकारी चाह ले तो किसी भी बड़े अपराधी का नाम मोस्ट वांटेड अपराधी की लिस्ट में शामिल करने के लिए एक घंटे से ज़्यादा का वक्त नहीं लगता है. मोस्ट वांटेड की लिस्ट को देखकर ही लगता है कि काफी वक्त से ये अपडेट नहीं हुई है. पुलिस अब मोस्ट वांटेड की लिस्ट पर काम भी नहीं करती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज