लाइव टीवी

गाजियाबाद के इंदिरापुरम में 2 बच्चों की हत्या कर पति, पत्नी व बिजनेस पार्टनर 8वीं मंजिल से कूदे, सभी की मौत

News18 Uttar Pradesh
Updated: December 3, 2019, 12:45 PM IST
गाजियाबाद के इंदिरापुरम में 2 बच्चों की हत्या कर पति, पत्नी व बिजनेस पार्टनर 8वीं मंजिल से कूदे, सभी की मौत
इसी फ्लोर से कूद कर तीनों लोगों ने आत्महत्या की थी.

पुलिस के मुताबिक घरेलू कलह और आर्थिक तंगी की वजह से आत्महत्या की आशंका जताई जा रही है. फिलहाल मौके पर पुलिस के आला अधिकारी मौजूद हैं और मामले की तफ्तीश में जुटे हैं.

  • Share this:
गाजियाबाद. दिल्ली (Delhi) से सटे गाजियाबाद (Ghaziabad) के इंदिरापुरम (Indirapuram) के वैभव खंड (Vaibhav Khand) स्थित एक सोसाइटी के अपार्टमेंट की आठवीं मंजिल से पति, पत्नी और बिजनेस पार्टनर नीचे कूद गई. इसमें एक महिला और पुरुष की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि एक महिला गंभीर रूप से घायल हो गई जिसने इलाज के दौरान अस्पताल में दम तोड़ दिया. जानकारी के मुताबिक कूदने से पहले मृतक पति और पत्नी ने सो रहे अपने दो बच्चों की गला दबाकर हत्या कर दी. साथ ही उन्होंने अपने घर में मौजूद एक खरगोश की भी हत्या कर दी थी.




सूचना पर पुलिस के आला अधिकारी भी मौके पर पहुंचे और मामले की तफ्तीश की जा रही है.  पुलिस ने घटना के पीछे घरेलू कलह और आर्थिक तंगी की आशंका जताई है.

suicide note on wall
दीवार पर लिखा सुसाइड नोट
गाजियाबाद के एसएसपी सुधीर कुमार ने बताया कि मामला कृष्णा अपरा सफायर के फ्लैट नंबर A-805 का है. यहां रह रहे एक पुरुष और दो महिलाओं ने आत्महत्या की नीयत से अपार्टमेंट की आठवीं मंजिल से छलांग लगा दी. जिससे इनमें से दो की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि एक महिला की इलाज के दौरान अस्पताल में मौत हो हुई. उन्होंने बताया कि फ्लैट खोलकर देखा गया तो अंदर दो बच्चों के शव पड़े थे. इनमें से एक लड़का है जिसकी उम्र करीब 12 साल है जबकि दूसरा शव लड़की की है जिसकी उम्र लगभग 11 साल है. घर में एक कमरे की दीवार पर सुसाइड नोट लिखा है. जिससे ये पता चल रहा है कि आर्थिंक तंगी की वजह से यह कदम उठाया गया है. ये परिवार एक महीने पहले ही यहां रहने आया था. परिवार मूलतः दिल्ली का रहने वाला है. इनके परिजनों को इसकी सूचना दे दी गई है. आगे की तफ्तीश जारी है.



मंगलवार सुबह करीब 5 बजे की घटना
सोसाइटी के सिक्युरिटी गार्ड एजाज करीम खान ने बताया कि मंगलवार सुबह पांच बजे की यह घटना है. अचानक जोर की आवाज आई तो उसने जाकर देखा कि वहां तीन लोग गिरे हुए थे. ये सभी लोग फ्लैट संख्या A-805 में रहते थे. उसने कहा कि परिवार के लोग शांत स्वभाव के थे और लोगों के साथ ज्यादा बातचीत नहीं किया करते थे. कभी उन्होंने कोई शिकायत भी नहीं की थी.

(इनपुट: अमित राणा)

ये भी पढ़ेंः ममेरे भाई ने पहले जीजा काे मार डाला, फिर खून से लथपथ बहन और भांजी का किया रेप

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गाजियाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 3, 2019, 7:44 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर